68500 भर्ती के दूसरे रिजल्ट को जारी करने के लिए किया कार्यालय का घेराव

परिषदीय स्कूलों की 68500 शिक्षक भर्ती पूरा होने का नाम नहीं ले रही है। अभ्यर्थी पिछले चार माह से शिक्षक भर्ती के दूसरे रिजल्ट का इंतज़ार कर रहे है। अभ्यर्थियों का अब धैर्य जवाब दे गया है। अभ्यर्थियों ने कार्यालय का घेराव कर शिक्षक भर्ती का दूसरा रिजल्ट जल्द जारी करने की मांग की है। पिछली बार भी अभ्यर्थियों ने एक सप्ताह तक रिजल्ट के लिए प्रदर्शन किया था तब एससीईआरटी से पुनमरूल्यांकन की कॉपियां पहुंच सकी थीं। अभ्यर्थियों का कहना है कि स्कैन कॉपी लेकर रिजल्ट तक के लिए लड़ाई लड़ने को मजबूर होना पड़ रहा है।

68500 सहायक शिक्षक भर्ती की लिखित परीक्षा की कॉपियों का पुनमरूल्यांकन के लिए आवेदन और मूल्यांकन भी पूरा करा दिया है लेकिन भर्ती का दूसरा रिजल्ट आधर में अटका है। हजारों अभ्यर्थी चार माह से परिणाम आने की राह देख रहे हैं। उनका कहना है कि 69000 भर्ती न्यायालय के आदेश से फंसी है तो वही 68500 भर्ती को अधिकारियों ने लटका दिया गया है। इस स्थिति में यह भर्ती प्रक्रिया लोकसभा चुनाव की आचार संहिता का शिकार भी हो सकती है।

यह भी पढ़ेंः  जूनियर हाईस्कूलों में प्रधानाध्यापक पद पर चयन अफसर बनने से भी कठिन

अभ्यर्थियों का एक समूह पिछले दिनों अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा डा. प्रभात कुमार से भी मिला थ, उन्होंने जल्द रिजल्ट देने का वादा किया था। इसके बाद भी अब तक परिणाम नहीं आया है इसलिए कार्यालय घेर रहे हैं। और उनका कहना है कि जरूरत पड़ी तो लखनऊ विधानसभा के सामने भी प्रदर्शन करेंगे। यहां अनूप कुमार, अंकित वर्मा, विशाल प्रताप, ब्रजमोहन, रवीश कुमार मिश्र, लालजी यादव आदि मौजूद थे। उधर, परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय की ओर से कहा गया है कि इसी सप्ताह रिजल्ट देने की तैयारी है।