बेसिक शिक्षा विभाग में 51,112 पद हैं खाली, 23 हजार पदों पर चयन नहीं, नई भर्ती की यह भी वजह

बेसिक शिक्षा विभाग ने 69,000 शिक्षक भर्ती की शीर्ष कोर्ट में सुनवाई के दौरान हलफनामा दिया था कि विभाग में 51,112 शिक्षकों के पद खाली हैं। शिक्षामित्रों के पक्ष में फैसला आने पर भर्ती पूरी होने के बाद भी नियुक्ति दी जाएगी। हालांकि फैसला शिक्षामित्रों के हक में नहीं आया। 68,500 भर्ती में करीब 23 हजार पद खाली हैं। दोनों भर्ती के रिक्त पद जोड़कर योगी सरकार की सबसे अधिक पदों की भर्ती घोषित हो सकती है।

नई भर्ती की यह भी वजह
’शीर्ष कोर्ट ने 69,000 भर्ती में भले ही शिक्षामित्रों के हक में फैसला नहीं सुनाया, लेकिन उन्हें एक और मौका दिए जाने का आदेश किया है। यानी अगली भर्ती में शिक्षामित्रों को पहले की तरह वेटेज दिया जाएगा।

यह भी पढ़ेंः  69000 भर्ती फर्जीवाड़ा के मास्टर माइंड व उसके सहयोगियों पर लगेगा गैंगस्टर

’बड़ी संख्या में प्रतियोगी 68,500 शिक्षक भर्ती के रिक्त पदों पर 69,000 भर्ती की लिखित परीक्षा में सफल होने वालों को नियुक्ति देने की मांग कर रहे हैं। बेसिक शिक्षा विभाग इससे साफ इन्कार कर चुका है।

’69,000 शिक्षक भर्ती में एक वर्ग के अभ्यर्थी गड़बड़ी होने का आरोप लगाते हुए आंदोलन कर रहे हैं। नई भर्ती घोषित होने से प्रतियोगियों का आंदोलन पीछे चला जाएगा।