मिडडे मील खाकर 51 बच्चों की तबीयत बिगड़ गई

  

mid dayघाटमपुर (कानपुर) : भीतरगांव क्षेत्र के देवसढ़ ग्राम पंचायत के मजरा सरसी स्थित प्राथमिक विद्यालय में सोमवार सुबह तब खलबली मच गई, जब मिडडे मील खाकर 51 बच्चों की तबीयत बिगड़ गई। कुछ को उल्टियां हुईं तो अधिसंख्य ने सिर और पेट में दर्द की शिकायत की। स्वास्थ्य टीम ने बच्चों की जांच कर आठ छात्रओं को अधिक दर्द की शिकायत पर सीएचसी में निगरानी के लिए भर्ती किया। कुछ देर में सभी की हालत में सुधार हो गया। डाक्टर फूड प्वाइजनिंग की आशंका जताते रहे।

हालांकि, बाद में बच्चों को उल्टी होने की बात से विद्यालय प्रबंधन व अधिकारियों ने इन्कार कर दिया। उधर, विद्यालय पहुंचे बेसिक शिक्षा अधिकारी पवन तिवारी ने खाने के नमूने विषाक्तता की जांच के लिए भिजवाए हैं। उन्होंने बताया कि पूरी मामले की जांच होने तक प्रधानाध्यापक को निलंबित कर दिया है।

विद्यालय में आलू और सोयाबीन की सब्जी व रोटी बनी थी। खाना खाने के बाद छात्र गुड़िया और अंशिका ने सिर चकराने और पेट दर्द की शिकायत की। इसके बाद कई छात्रओं ने उल्टी और दर्द की शिकायत की। विद्यालय की प्रधानाध्यापक शमीमा खातून ने जानकारी भीतरगांव सीएचसी के चिकित्सा अधीक्षक डा. अजय मौर्या को दी। उन्होंने सरकारी एंबुलेंस के नोडल अधिकारी एसीएमओ डा. आरके गुप्ता को सूचित किया। भीतरगांव चिकित्सा अधीक्षक डा. अजय मौर्या अपने साथ डा. खान व डा. सचिन पांडेय और मेडिकल टीम को लेकर विद्यालय पहुंचे। टीम ने बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण शुरू किया। आठ छात्रओं को भीतरगांव सीएचसी लाया गया। डाक्टरों ने बताया कि अंशिका और गुड़िया ने ज्यादा पेट दर्द की शिकायत की थी। एहतियातन दोनों के बारे में एलएलआर अस्पताल, कानपुर को जानकारी दी। वहां रेफर करने से पहले ही उनकी तबीयत ठीक हो गई थी। हालत सामान्य होने पर छात्रएं घर चली गईं।

You may Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *