कक्षा 1 से 8 तक की 32 परिषदीय किताबें हुई ऑनलाइन

  

फतेहपुर : संचारक्रांति के बढ़ते कदमों का लाभ उठाते हुए शासन ने परिषदीय स्कूलों की सभी किताबों को आन लाइन कर दिया है। एंड्रायड फोन से आन लाइन इन किताबों को खोलकर कक्षा का पठन पाठन ससमय कराया जा सकेगा। लेट लतीफी के चलते पठन पाठन प्रभावित होने का बहाना अब शिक्षक नहीं कर पाएंगे। शिक्षकों के साथ ही अभिभावक भी इन किताबों को वेबसाइट में जाकर पाठयक्रम समझ सकते हैं।

बेसिक शिक्षा दिनों दिन हाईटेक होता जा रहा है। निश्शुल्क किताबों के वितरण के साथ ही इन किताबों को आन लाइन कर दिया है। भारतवाणी वेबसाइट में कक्षा 1 से 8 तक की 32 किताबों को आन लाइन कर दिया गया है। किताबों के वितरण में अक्सर लेट लतीफी हो जाती है। इसके साथ ही कभी कभी कई किताबें स्कूल तक नहीं पहुंच पाती हैं। जिसके चलते स्कूलों का पठन पाठन प्रभावित होता है। पुरानी किताबों के सहारे कामचलाऊ विधि से पठन पाठन कराया जाता है। ऐसी तमाम दिक्कतों का समाधान भारतवाणी वेबसाइट ने कर दिया है। जिले के 1903 प्राथमिक और 747 उच्च प्राथमिक विद्यालयों में पढ़ने वाले 2,33,345 पंजीकृत बच्चों में जिनके पास किताबें नहीं होंगी वह लाभान्वित होंगे।

प्राथमिक विद्यालय गौरी में मोबाइल एप से बच्चों को पढ़ातीं शिक्षिका ’ जागरण

’कक्षा 1 से 8 तक की 32 किताबें ऑनलाइन पढ़ी जा सकेंगी

वितरण में होने वाली देरी की समस्या से मिलेगी निजात

शासन के द्वारा वेबसाइट में किताबों को डाला जाना बेहद स्वागत योग्य कदम है। पहले तो यह प्रयास होता है कि हर विद्यालय में संपूर्ण किताबों का वितरण हो इसके बाद भी यदि किताबों की दिक्कत है तो भारतवाणी में किताबों को पढ़कर पढ़ाया जा सकता है। भारतवाणी के जरिए अभिभावक इस वेबसाइट में किताबों का अध्ययन कर सकते हैं। इसके साथ ही संबंधित पेज अथवा पुस्तक का ¨पट्र आउट निकाला जा सकता है।

शिवेंद्र प्रताप सिंह, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी

You may Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *