दो वर्षीय प्रशिक्षण पाठ्यक्रम डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजूकेशन (डीएलएड) का पेपर आउट

प्रयागराज : प्राथमिक स्कूलों में शिक्षक बनने की दो वर्षीय प्रशिक्षण पाठ्यक्रम डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजूकेशन (डीएलएड) का पेपर आउट हो गया है। प्रयागराज के राजकीय इंटर कालेज परीक्षा केंद्र पर प्रवेश के समय ही तलाशी के दौरान मोबाइल के वाट्सएप ग्रुप पर पेपर की हल सामग्री मिली है। जीआइसी के उप प्रधानाचार्य बंशराज की ओर से चौक कोतवाली में महिला प्रशिक्षु व उसके भाई के विरुद्ध नकल करने का मुकदमा दर्ज कराया गया है।

प्रदेश के सभी जिलों में इन दिनों राजकीय व एडेड माध्यमिक कालेजों में डीएलएड के विभिन्न सेमेस्टरों की परीक्षाएं चल रही हैं। बुधवार को प्रयागराज के राजकीय इंटर कालेज में डीएलएड 2018 बैच अष्टम प्रश्नपत्र का इम्तिहान दो से तीन बजे तक होना था। परीक्षा शुरू होने से पहले मुख्य गेट पर प्रशिक्षु ज्योति अनुक्रमांक 2013501095 के साथ राहुल मौर्य निवासी सैदाबाद हंडिया पहुंचे। ज्योति की तलाशी के दौरान मोबाइल के वाट्सएप ग्रुप डी-18 पर ग्रुप एडमिन मनोज की ओर से पेपर की हल सामग्री व अन्य पोस्ट की गई थी। सहायक अध्यापक अखिलेश कुमार, राजेंद्र यादव, डा. इफत परवीन व अहमद सिद्दीकी को पेपर शुरू होने से 15 मिनट पहले ही मोबाइल से अनुचित सामग्री मिली। परीक्षा के पेपर से मिलान करने पर काफी सवाल मोबाइल पर हल मिले हैं। जीआइसी के उप प्रधानाचार्य बंशराज की ओर से चौक कोतवाली में प्रशिक्षु व उसके भाई को नामजद करते हुए मुकदमा लिखाया गया है। जीआइसी के प्रधानाचार्य देवेंद्र सिंह ने बताया कि परीक्षा शुरू होने से पहले ही पेपर की हल सामग्री मिली है। इसलिए रिपोर्ट दर्ज करा दी गई है। सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी उप्र प्रयागराज को रिपोर्ट भेजी जा रही है। उधर, सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी अनिल भूषण चतुर्वेदी ने बताया कि उन्हें जीआइसी की रिपोर्ट का इंतजार है।

पहले भी आउट हो चुका पेपर

बीटीसी 2015 चौथे सेमेस्टर का भी पेपर आउट हो गया था। उस समय परीक्षा नियामक कार्यालय ने परीक्षाएं रद करके फिर से कराई थी साथ ही पेपर को कोषागार के डबल लाक में रखवाने का इंतजाम कराया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.