13 शिक्षकों की नियुक्तियां निरस्त

सीतापुर : 16448 assistant teachers की भर्ती में नियमों की अनदेखी कर 13 teacher को नियुक्ति देने के मामले में आखिरकार कार्रवाई का चाबुक चल ही गया है। अवैध भर्ती का प्रकरण हाईकोर्ट में पहुंचने के बाद हरकत में आए अफसरों ने आनन फानन में नियुक्तियों को निरस्त कर दिया। कार्रवाई के बावजूद खेदजनक यह है कि इस मामले में लापरवाही करने वाले बड़े अफसरों पर अब तक कोई सख्त कार्रवाई नहीं हुई है। नियुक्तियों में खेल का खुलासा दैनिक जागरण ने ही किया था।

सितंबर 2016 में 16 जून 2016 तक BTC, Urdu BTC and NCTE द्वारा मान्यता प्राप्त D.ed (Special Education) and BLED Pass candidates की counseling कराकर नियुक्ति के निर्देश जारी हुए थे। शासनादेश के विरुद्ध D.ed degree holders ने उच्च न्यायालय में रिट दाखिल की थी। इस पर D.ed candidates की काउंसिलिंग कराकर चयनित होने वाले अभ्यर्थियों के पद सुरक्षित करते हुए नियुक्ति पत्र न जारी करने के आदेश विभाग को दिए गए थे। इसके विपरीत तत्कालीन विभागीय अफसरों ने न केवल नियुक्ति पत्र जारी किए वरन शिक्षकों को स्कूल भी आवंटित कर दिए। इस पूरे मामले का खुलासा दैनिक जागरण ने किया तो जांच के निर्देश दे दिए गए।

इसमें नियुक्ति पत्र गलत ढंग से जारी होने की बात पकड़ी गई। इसी के आधार पर 13 शिक्षकों की नियुक्तियों को निरस्त कर दिया गया है। यही नहीं, BSA को निर्देशित किया गया है कि निरस्तीकरण की कार्रवाई के बारे में चयन समिति और उच्चाधिकारियों को भी सूचित करें। बीएसए अजय कुमार ने नियुक्तियां निरस्त होने की पुष्टि की है। दैनिक जागरण ने किया था भर्ती में गड़बड़ी का खुलासा चयन समिति के निर्देश के बाद बीएसए ने की कार्रवाई

पढ़ें- Court Asked to Govt in 72825 Assistant Teachers Recruitment case

Teachers Appointment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *