एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती में लिखित परीक्षा

योगी सरकार ने अखिलेश राज के एक और फैसले को पलटने का मन बनाया है। rajkiya madhyamik vidyalaya में LT grade teachers के 9342 रिक्त पदों को भरने के लिए बीते दिसंबर में शुरू हुई भर्ती प्रक्रिया रद होगी। इस भर्ती के लिए madhyamik shiksha department को लगभग छह लाख अभ्यर्थियों के आवेदन प्राप्त हो चुके हैं। एलटी ग्रेड शिक्षकों की भर्ती अब State level written examination के आधार पर होगी। शासन स्तर पर यह सहमति बन जाने पर माध्यमिक शिक्षा विभाग LT grade teachers की भर्ती के लिए नियमावली में संशोधन के प्रस्ताव को कैबिनेट से मंजूर कराने की कवायद में जुट गया है। अभी तक यह bhartiya shaikshik merit के आधार पर होती थी।

पढ़ें- स्नातक शिक्षक अंग्रेजी का विद्यालय आवंटन 25 से

वर्ष 2016 से पहले LT grade teachers की भर्ती के लिए मंडल स्तर पर आवेदन लिये जाने और चयन की व्यवस्था थी। मंडल स्तर पर होने वाली भर्ती में बार-बार मेरिट सूची में बदलाव होने और बड़ी संख्या में चयनित अभ्यर्थियों के अंकपत्र फर्जी पाये जाने की व्यावहारिक दिक्कतों सामने आयी थीं। इन दिक्कतों को देखते हुए अखिलेश सरकार ने LT grade shikshak की State level merit के आधार पर कराने का फैसला किया था जिसके लिए दिसंबर 2016 में विज्ञापन जारी हुआ था। विधानसभा चुनाव के चलते जहां पहले चयन प्रक्रिया रुक गई वहीं अब योगी सरकार एलटी ग्रेड शिक्षकों की भर्ती में शुचिता और पारदर्शिता के तकाजे से शिक्षकों का चयन written exam के आधार पर कराना चाहती है। तर्क यह है कि भर्ती के लिए बड़ी संख्या में आवेदन करने वाले फर्जी अंकपत्रों के आधार पर मेरिट सूची में चयनित हो जाते हैं जबकि वास्तविक अंकपत्रों वाले अभ्यर्थी दौड़ से बाहर हो जाते हैं।

पढ़ें- Answer Sheet Released of Lecturer Exam

चतुर्थ श्रेणी कर्मियों की भर्ती करेगी सरकार

rajkiya madhyamik vidyalaya में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों के 2900 रिक्त पदों पर भी सरकार भर्ती करेगी। अखिलेश सरकार ने यह recruitment outsourcing के आधार पर कराने का फैसला किया था। इसके लिए यूपीडेस्को को नोडल एजेंसी बनाया था।

पढ़ें- एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती की वेबसाइट फिर खोलने की तैयारी

Written examination in LT grade teacher recruitment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.