अंतर जिला तबादले में वेबसाइट व अन्य निर्देशों में बदलाव का इंतजार

इलाहाबाद : परिषदीय शिक्षकों को अंतर जिला तबादले में वेबसाइट व अन्य निर्देशों में बदलाव का इंतजार है। साथ ही ऑनलाइन आवेदन की तारीख बढ़ने की भी पूरी उम्मीद है। परिषद मुख्यालय हाईकोर्ट का आदेश शासन को भेज चुका है, वहां से जवाब आने का इंतजार किया जा रहा है। उसी के बाद ही पांच वर्ष या उससे कम सेवा पूरी कर चुकी अध्यापिकाएं आसानी से आवेदन कर सकेंगी।

बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों के शिक्षकों का अंतर जिला तबादला प्रक्रिया इन दिनों चल रही है। परिषद बीते 16 जनवरी से इसके लिए ऑनलाइन आवेदन ले रहा है। दो दिन तक वेबसाइट बंद होने पर आवेदन की समय सीमा बढ़ाकर 29 जनवरी की जा चुकी है। इसी बीच हाईकोर्ट ने शिक्षिकाओं की याचिका पर निर्णय दिया है कि जो अध्यापिकाएं पति के निवास स्थान या फिर ससुराल वाले जिले में जाना चाहती हैं, उन पर पांच साल की समय सीमा लागू नहीं होगी। यानि उससे भी कम सेवा वाली शिक्षिकाएं भी अब आवेदन कर सकेंगी। अभी वेबसाइट पर पांच साल से कम सेवा अवधि वाली सभी शिक्षिकाओं के आवेदन नहीं हो पा रहे हैं, क्योंकि नियुक्ति तारीख फीड होते ही साफ्टवेयर आवेदन को इनवैलिड बता रहा है। इससे शिक्षक परेशान हैं।

उधर, बेसिक शिक्षा परिषद मुख्यालय ने हाईकोर्ट का आदेश शासन को भेजकर मार्गदर्शन मांगा है। शासनादेश में बदलाव के बाद ही पांच साल से कम सेवा वाली शिक्षिकाएं आवेदन कर पाएंगी। अभी तक शासन ने इस संबंध में कोई निर्देश नहीं दिया है और आवेदन की अंतिम तारीख करीब आ गई है। ऐसे में ऑनलाइन की अंतिम तारीख बढ़ने के पूरे आसार हैं और तबादला प्रक्रिया भी अब लंबी खिंचेगी। ज्ञात हो कि अब तक अंतर जिला तबादले के लिए करीब दस हजार आवेदन हो चुके हैं। यह संख्या कम होने का कारण दूसरे जिलों में तैनात अधिकांश शिक्षकों की पांच साल की अवधि पूरी नहीं हुई है। अब अध्यापिकाओं के आवेदन होने पर संख्या तेजी से बढ़ने की उम्मीद है। माना जा रहा है कि जल्द ही परिषद शासन से निर्देश मिलते ही इस संबंध में आदेश जारी करेगा और तबादला प्रक्रिया होली के आसपास पूरी हो पाने के आसार हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *