टीईटी 2017 अपूर्ण रिजल्ट प्रकरण ने तूल पकड़ा

इलाहाबाद : प्रदेश में उप्र शिक्षक पात्रता परीक्षा यानी यूपी टीईटी 2017 अपूर्ण परिणाम का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। अपूर्ण रिजल्ट पर विभाग मौन सादे हुऐ है, वहीं अभ्यर्थियों दावा कर रहे है कि करीब 20 हजार अभ्यर्थियों का परिणाम अभी भी रुका है। इन परिणामों में अनुक्रमांक या फिर पंजीकरण नंबर जो सही हो, उसी से रिजल्ट घोषित किया जाए। प्रदेश सरकार basic shiksha parishad के primary schools में sahayak adhyapak bharti pariksha कराने जा रही है लेकिन, जिन अभ्यर्थियों का Exam Results अपूर्ण हो गया है उन्हें shikshak bharti pariksha में शामिल न होने का डर सता रहा है।

UP TET 2017 की परीक्षा 15 अक्टूबर को हुई और Examination regulatory authority परिणाम 15 दिसंबर को घोषित किया, जिसमें करीब 20 हजार अभ्यर्थियों का परिणाम अपूर्ण प्रदर्शित हो रहा है। यह वे अभ्यर्थी हैं जिन्होंने OMR seat भरने में रोल नंबर, रजिस्ट्रेशन नंबर, कैटेगरी आदि भरने में गलती की है। अभ्यर्थियों का कहना है कि मानवीय भूल के कारण ऐसा हो गया है यदि रोल नंबर या रजिस्ट्रेशन नंबर में कोई एक सही है तो उस पर परिणाम घोषित किए जा सकते हैं। अभ्यर्थियों का यह भी कहना है कि परीक्षा नियामक प्राधिकारी की ओर से हुए इम्तिहान में परीक्षा के प्रश्नपत्र में ऐसे प्रश्न दे दिए गए थे जिसका सही विकल्प ही उसमें नहीं था साथ ही साथ दो बार उत्तर कुंजी का संशोधन हुआ और अब मामला कोर्ट में चल रहा है। जब खुद की गलती सुधारी जा सकती है तो अभ्यर्थियों की मानवीय भूल को भी दुरुस्त किया जा सकता है।

OMR seat में रजिस्ट्रेशन नंबर, अनुक्रमांक व नाम इसीलिए भराए जाते हैं कि यदि एक गलत हो तो दूसरे से मूल्यांकन किया जा सके। अभ्यर्थियों ने कहा कि पूर्व में दारोगा भर्ती, लोकसेवा आयोग, TET 2011 सफेदा प्रकरण में अभ्यर्थियों का परीक्षा परिणाम घोषित किया जा चुका है। अभ्यर्थियों ने परीक्षा नियामक व शासन से मांग की अपूर्ण अभ्यर्थियों का परीक्षा परिणाम घोषित करके उनके साथ न्याय करें, अन्यथा अभ्यर्थी न्यायालय की शरण में जाएंगे। इस प्रकरण में अभ्यर्थियों ने सचिव परीक्षा नियामक का घेराव किया था तब आश्वासन भी मिला था। हजारों की संख्या में प्रत्यावेदन भी सीधे व डाक से लिए गए हैं। वहीं, परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव डा. सुत्ता सिंह का कहना है कि शासनादेश के तहत परीक्षा हुई और रिजल्ट जारी हुआ है इसमें बदलाव होना संभव नहीं है।

पढ़ें- Basic Shiksha Parishad Shikshak Transfer in Preferred District

Basic Shiksha Parishad Shikshak Transfer

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.