शिक्षकों की समस्याओं को मंत्रिमंडल के सामने रखेंगे

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि वित्तविहीन शिक्षकों की पीड़ा और समस्याओं से वे वाकिफ हैं, प्रयागराज में कैबिनेट मीटिंग होने के बाद जो भी कैबिनेट मीटिंग होगी उसमें शिक्षकों की सेवा सुरक्षा नियमावली पर मोहर लग जाएगी। केशव प्रसाद मौर्य रविवार को गोहरी गांव स्थित बीबीएस इंटरनेशनल स्कूल के सभागार में वित्तविहीन शिक्षक संवेदना सम्मेलन को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे।

इस अवसर पर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले शिक्षक देवेंद्र पांडेय, राजमणि शास्त्री, डॉ. श्वेता पाठक, सुषमा शर्मा, रजनी शर्मा, अलका श्रीवास्तव, धरती श्रीवास्तव, रामसुख पटेल, अरूण कुमार द्विवेदी, राजेंद्र प्रसाद मिश्र, दिनेश चंद्र विश्वकर्मा, शोभा दूबे, योगेंद्र गुप्ता, शशिरानी, रामकिशोर, अतुल मिश्र, जीत नारायण मिश्र, वर्षा अरोरा, अनीता शुक्ल आदि को प्रशस्ति पत्र और अंगवस्त्रम् देकर सम्मानित किया गया। इसके पूर्व देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मन की बात को श्रोता के रूप में डिप्टी सीएम के अलावा सैकड़ों लोगों ने सुना। अध्यक्षता विधायक संजय गुप्ता और संचालन डॉ.अनिल राज मिश्र और धन्यवाद ज्ञापित रणजीत सिंह ने किया। विधायक विक्रमाजीत मौर्य, डॉ.आरके वर्मा, गुरु प्रसाद मौर्य, कन्हैया लाल पांडेय, राजेंद्र मिश्र, डॉ.ऋषिराज सहाय मौजूद रहे।

पढ़ें- Court Stay on 69000 Shikshak Bharti Result next hearing on 29 january

0 Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.