UPTET 2017 Result से शिक्षामित्रों की आशाओं पर पानी फिरा

UPTET 2017 का रिजल्ट शुक्रवार को जारी कर दिया गया है। teacher eligibility test 2017 की परीक्षा में 89% फीसदी लोग फेल हो गए हैं। teacher eligibility test 2017 का रिजल्ट आने से प्रदेश के शिक्षामित्रों की भी किस्मत का फैसला भी हो गया है। UPTET 2017 result देखते ही शिक्षामित्रों की आशाओं पर पानी फिर गया। क्योकि ज़्यदातर shikshamitra इस exam में फ़ैल हो गए है और इसी के साथ उनके हाथ से sahayak shikshak बनाने का एक मौका भी निकल गया है।

पढ़ें- यूपी टीईटी-2017 को लेकर एक और याचिका  

ऐसे चेक कर सकेंगे रिजल्ट – check result

सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी की ओर से 15 अक्टूबर को आयोजित UPTET 2017 की परीक्षा में 9,76,760 परीक्षार्थियों ने registration करवाया था, जबकि 8,08,348 ने परीक्षा दी थी। इनमें कुल 89,803 परीक्षार्थी ही पास हो पाए, जो शामिल परीक्षार्थियों का महज 11.1% ही है। रिजल्ट upbasiceduboard.gov.in पर देखा जा सकता है। Candidate UP TET 2017 Results से जुड़ी किसी भी जानकारी के लिए हेल्पलाइन नम्बर-0532-2466761, 0532-2466769 पर UP Examination Regulatory Authority Allahabad से भी संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा uptethelpline@gmail.com पर भी ईमेल कर सकते हैं।

पढ़ें- टीईटी-2017 के परिणाम पर असमंजस की स्थिति

शिक्षामित्रों को बड़ा झटका

प्रदेश के primary schools में पढ़ा रहे 1.37 lakh sahayak shikshak को supreme court के आदेश पर पुन: shikshamitra बना दिया गया था। supreme court ने इन्हें दो क्रमिक recruits में अवसर व वेटेज देने का लिए प्रदेश सरकार को अधिकृत किया था। state government ने शिक्षामित्रों को भर्ती के दौरान 2.5 अंक प्रति वर्ष या अधिकतम 25 अंक वेटेज और उम्र सीमा में छूट की घोषणा की है। लेकिन यह सब तब ही संभव हो पाएगा जब शिक्षामित्र टीईटी पास कर लें। teacher से shikshamitra पर वापस किए गए सहित प्रदेश में कुल 1.69 lakh shikshamitra हैं। इनमें करीब 30 हजार हजार पहले से TET Pass हैं। यानि, करीब 1.40 लाख को शिक्षक बनने के लिए TET Pass करना जरूरी है। शुक्रवार को जारी नतीजों में 48 हजार से कम अभ्यर्थी प्राथमिक स्तर पर TET Pass कर सके हैं, इनमें शिक्षामित्रों के अलावा अन्य अभ्यर्थी शामिल हैं। ऐसे में दो-तिहाई शिक्षामित्र पहले मौके में ही भर्ती की रेस में पीछे छूट गए हैं। doorasth BTC Teachers Association के अध्यक्ष अनिल कुमार यादव ने आरोप लगाया है कि बेसिक शिक्षा विभाग शिक्षामित्रों को भर्ती से बाहर रखने की साजिश कर रहा है।

पढ़ें- टीईटी मनोविज्ञान की संशोधित उत्तरकुंजी में गुपचुप बदलाव

कोर्ट के निर्णयों के अधीन रहेगा परिणाम

TET में पूछे गए सवालों पर आपत्ति को लेकर हाईकोर्ट में कई याचिकाएं दाखिल हैं। वहीं, लखनऊ खंडपीठ में भी मोहम्मद रिजवान एवं 103 व अन्य की भी याचिका लंबित है। परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने परिणाम के साथ ही शर्त लगा दी है कि परिणाम इन याचिकाओं के अधीन रहेंगे।

shikshamitra upset to UPTET 2017 Result

shikshamitra upset to UPTET 2017 Result

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *