शिक्षामित्रों के मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला सुरक्षित

उत्तर प्रदेश में Shikshamitra Samayojan के मामले में Supreme court में बुधवार को सुनवाई पूरी हो गई और कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया। कोर्ट ने पक्षकारों को दलीलें दाखिल करने के लिए सात दिन का समय दिया है। Allahabad High Court ने 12 सितंबर 2015 को उत्तर प्रदेश में One lakh seventy five thousand Shikshamitron का prathmik vidyalaya के Assistant teacher के तौर पर Samayojan रद कर दिया था, जिसके खिलाफ उत्तर प्रदेश सरकार और Shikshamitra Supreme court पहुंचे हैं। आज खास बात यह थी कि शिक्षामित्रों के मामले में सुनवाई कर रही न्यायमूर्ति आर्दश कुमार गोयल और न्यायमूर्ति यूयू ललित की पीठ में से जस्टिस ललित तीन तलाक के मामलों को सुन रही संविधान पीठ का भी हिस्सा हैं। इसलिए तीन तलाक मामले की सुनवाई पूरी होने के बाद शाम 4.10 पर Shikshamitron के मामले की सुनवाई के लिए पीठ बैठी। सुनवाई के दौरान Shikshamitron के वकीलों ने कोर्ट से कहा कि Assistant Teachers के मामले में कोर्ट ने नियुक्त हो चुके शिक्षकों को नहीं छेड़े जाने की बात कही है। इस मामले में भी कोर्ट जिनकी नियुक्ति हो चुकी है उन्हें न छेड़े। Shikshamitron के पास शैक्षणिक योग्यता के अलावा 17 साल पढ़ाने का अनुभव भी है।

पढ़ें- पौने दो लाख शिक्षामित्रों के भाग्य का फैसला कल पूर्व सीएम सहित अन्य को पार्टी बनाये जाने की तैयारी

इस पर पीठ ने कहा कि वह उन्हें नहीं छेड़ रहे हैं। Shikshamitron के lawyer सलमान खुर्शीद ने कोर्ट से यह भी कहा कि अगर जरूरी योग्यता की बात है (जैसे टीईटी) तो कोर्ट उन्हें उसे पूरा करने के लिए कुछ समय दे सकता है। कोर्ट को बताया गया कि हाई कोर्ट ने Shikshamitra Samayojan रद करते समय बहुत से पहलुओं पर ध्यान नहीं दिया है। कोर्ट ने सभी पक्षों की बहस सुनने के बाद अपना फैसला सुरक्षित रख लिया।

पढ़ें- Samayojit Shikshak बनाए रखें एकता

यह मामला 172000 Shikshamitra के Assistant Teacher के तौर पर समायोजन का है। अभी तक 132000 Shikshamitra Assistant teacher के तौर पर समायोजित हो चुके हैं और सुप्रीम कोर्ट से हाई कोर्ट के आदेश पर रोक के चलते काम कर रहे हैं। Uttar Pradesh Doorasth BTC Shikshak Sangh के प्रदेश अध्यक्ष अनिल कुमार यादव का कहना है कि उन्हें सुप्रीम कोर्ट से न्याय मिलने की उम्मीद है।

पढ़ें- 1.75 lakh Shiksha Mitra 17 वर्षो से पढ़ा रहे हैं, उन्हें इस अनुभव का कुछ वेटेज मिले – कोर्ट

एकेडेमिक भर्ती पर 19 मई को होगी सुनवाई : Assistant Teacher की Academic recruitment के मामले में कोर्ट 19 मई से सुनवाई करेगा। यह मामला 90000 Assistant Teacher Recruitment से जुड़ा है।

Shikshamitra supreme court decision safe

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *