वाराणसी: पीएम मोदी की जनसभा में शिक्षामित्रों ने मोदी वापस जाओ के नारे लगाये और काले झंडे दिखाये

शिक्षामित्र अपने समायोजन को लेकर दिन प्रतदिन धरना प्रदर्शन कर रहे है मगर कोई उनकी सुनने वाला नहीं नजर आता है सभी वादा कर के चले जाते है। शिक्षामित्र हर संभव प्रयास कर रहे है की हमारा समायोजन हो जायेै। जहाँ कई भी उनको एक उम्मीद की किरण दिखाई देती है वह उधर ही चल देते है। उम्मीद का एक नजारा वाराणसी में भी देखने को मिला। शिक्षामित्रों को प्रधानमत्री रुपी एक उम्मीद की किरण नजर आयी थी मगर वो भी धूमिल हो गई क्यों की प्रधानमत्री ने शिक्षामत्रों से कोई मुलाकात नहीं की जिससे शिक्षामित्रों की सभी उम्मीदों पर पानी फिर गया। शिक्षामित्रों की मुलकात प्रधानमत्री से न होने पर शिक्षामित्रों का गुस्सा फूट पड़ा और वो वाराणसी में मोदी की सभा स्थल पर अपनी मागों को लेकर नारेबाजी करने लगे। प्रधानमत्री मोदी को काले झंडे भी दिखाये। शिक्षा मित्रों ने मोदी वापस जाओ के नारे भी लगाये। प्रधानमत्री के भाषणों के बीच में शिक्षामित्र नारेबाजी करने लगे जिसे प्रधान मंत्री जल्दी ही अपना भाषण ख़त्म करके दिल्ली के लिए रवाना हो गये। विरोध प्रदर्शन इतना बढ गया कि मुख्यमंत्री भी अपना भाषण नहीं दे पाये। शिक्षामित्रों के धरना प्रदर्शन से प्रशासन के हाथ पैर फूल गये और आनन फानन में शिक्षामित्रों कि गिरफ्दारी शुरू हो गई। शिक्षामित्रों को बस में भर कर किसी अज्ञात जगह ले जाया गया

shikshamitra protest in front of pm modi in varanasi

वाराणसी: पीएम मोदी की जनसभा में शिक्षामित्रों ने मोदी वापस जाओ के नारे लगाये और काले झंडे दिखाये

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *