मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर शिक्षामित्रों ने लगाया वादाखिलाफी का आरोप

फैजाबाद: शिक्षामित्रों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए गुरुवार को एक बार फिर से आंदोलन शुरू कर दिया। दिनभर बेसिक शिक्षा कार्यालय परिसर में सरकार विरोधी नारे लगते रहे। धरना-प्रदर्शन के दौरान भारी तादाद में महिलाओं की हिस्सेदारी रही। उमस भरी गर्मी में भी शिक्षामित्र धरना स्थल पर डटे रहे। धरने के बीच विद्यालय के निरीक्षण की सूचना पर shikshamitra आगबबूला हो गए। इस पर प्रभारी बीएसए संजय कुमार ने कार्रवाई न किए जाने का भरोसा दिया, तब जाकर प्रदर्शनकारियों का गुस्सा शांत हो सका। विधायक वेद प्रकाश गुप्त के धरने स्थल पहुंचने के बाद खूब नारेबाजी हुई और मुख्यमंत्री को संबोधित मांगपत्र उन्हें सौंपा। आंदोलन के चलते जिले के 88 विद्यालयों में शिक्षण कार्य प्रभावित रहा। नगर क्षेत्र में 56 विद्यालय प्रभावित हुए। इसमें 13 में तो पढ़ाई ही नहीं हो सकी।

Adarsh Samayojit Shikshak Welfare Association के जिलाध्यक्ष अनुज सिह ने शिक्षामित्रों के मामले को मोदी सरकार की असफलता बताया। उन्होंने कहा कि shikshamitra samayojan canceled होने के बाद शिक्षामित्रों ने 26 जुलाई से एक अगस्त तक लगातार प्रदर्शन किया। इस पर सरकार ने समस्या समाधान के लिए 15 दिन का वक्त मांगा था, पर सरकार अपने वादे पर खरी नहीं उतरी। Prathmik Shikshak Sangh के प्रांतीय कोषाध्यक्ष विश्वनाथ सिंह ने कहा कि सरकार की वादाखिलाफी shikshamitra पर भारी पड़ रही है।

यूपी सरकार, केंद्र सरकार से संसद में अध्यादेश पारित कराकर shikshamitron की मांग पूरी करे। कहा कि सरकार उच्चतम न्यायालय के निर्णय पर स्थगनादेश लाए और पुनर्विचार याचिका दायर करे। Uttar pradesh prathmik shiksha mitra sangh के जिलाध्यक्ष दुर्गेश मिश्र ने कहा कि सरकार ने shikshamitron को धोखा दिया है। doorasth shiksha sangathan के जिलाध्यक्ष धर्मपाल ने कहा कि शिक्षक बनाए रखने के लिए सरकार विधेयक लाए, जिससे शिक्षामित्रों की रोजी-रोटी का संकट दूर हो सके। मीडिया प्रभारी अनूप द्विवेदी ने बताया कि शुक्रवार को सुबह 10 बजे से बीएसए कार्यालय सभी shikshamitra एकत्र होंगे।

Primary Teachers Association जिलाध्यक्ष संजय सिंह ने एलान किया कि न्याय मिलने तक आंदोलन जारी रहेगा। 1धरने को संबोधित करने वालो में प्राथमिक शिक्षक संघ के मंत्री प्रेम कुमार वर्मा,जिला उपाध्यक्ष अर¨वद दूबे, राजेश मिश्र, अरुण सिंह, अनिल पांडेय, अशोक वर्मा, सचिन त्रिपाठी, विजय प्रताप सिंह, राम दर्शन यादव, शैलेंद्र निषाद, आदित्य तिवारी, प्रमोद सिंह, राजेंद्र निषाद, भरत सिंह, लक्ष्मी, साधना, रेखा शुक्ला में रहे। इस दौरान सैकड़ों की तादाद में शिक्षक मौजूद रहे।

पढ़ें- कलेक्ट्रेट से बीएसए दफ्तर तक गरजे शिक्षामित्र

Shiksha mitron ne Yogi Adityanath par lagaya vada khialfi ka aarop

 

siksha mitra latest news पढ़ने के लिए आप हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब कर सकते है। जिससे आपको हमारे ब्लॉग की लेटेस्ट पोस्ट का नोटिफिकेशन मिल सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.