काली पट्टी बांधकर शिक्षामित्रों ने जताई नाराजगी

लाटघाट। Uttar pradesh prathmik shiksha mitra sangh के प्रदेश अध्यक्ष गाजी इमाम आला ने शिक्षामित्रों से अपील की है कि शिक्षामित्र निराश ना हों। संघठन पूरी ताकत के साथ supreme court में पुनर्विचार याचिका की लड़ाई को लड़ेगा। उन्होंने उम्मीद जताई कि supreme court शिक्षामित्रों के साथ न्याय अवश्य करेगा। जो आरोप शिक्षामित्रों के समायोजन पर लगाए गए थे, उनके खिलाफ सबूत दिए गए जा है फिर भी समायोजन रद्द हुआ तो इस लड़ाई को अंतिम सांस तक लड़ा जाएगा।

Uttar pradesh prathmik shiksha mitra sangh के प्रदेश अध्यक्ष गाजी इमाम आला आजमगढ़ समय लाटघाट बाजार में शिक्षामित्र दिनेश पांडेय के आवास पर शिक्षामित्रों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने बताय कि 2011 में NCTE ने कि 2011 में NCTE  ने शिक्षामित्रों को अंतिम Teacher मानते हुए दो वर्ष का सेवारत BTC training कराने की अनुमति दी थी। अब प्रदेश सरकार द्वारा शिक्षामित्रों पर TET थोपना सरासर अन्याय है। इस संबंध में shiksha mitra sangathan ने human resource development ministry और प्रधानमंत्री अपनी बातों को पहुंचा चुके हैं। शिक्षामित्र 2001 से प्राथमिक शिक्षण व्यवस्था में शिक्षण कार्य कर रहे हैं। संजय यादव, मोतीलाल कनौजिया ,दिनेश नायक, अजीत राय, दिनेश कुमार पांडे, सुनीता सिंह, अनीता देवी, पिंटू राय ,आदि शिक्षामित्र रहे।

काली पट्टी बांधकर शिक्षामित्रों ने जताई नाराजगी: शिक्षामित्रों से दीपावली पर पर्व पर वहिष्कार कर काली पट्टी बांधकर प्रदर्शन किया। शिक्षामित्रों ने सरकार न्याय की गुहार लगाई। शिक्षामित्र संगठन नेता अजय प्रताप के नेतृत्व में BRC Center Hillholi में शिक्षामित्रों ने काली बांधकर सरकार के खिलाफ विरोध दर्ज कराया। शिक्षामित्रों ने सरकार की तरफ से कोई रहत भरा फैसला न आने विरोध में दीपावली का बहिष्कार करने की बात कही। सरकार सरकार द्वारा शिक्षामित्रों को TET Exam में समय ना दिये जाने, परीक्षा में एक भी दिन अवकाश ना दिए जाने, परीक्षा में प्रवेश पत्र प्राप्त होने के प्रवेश न दिया जाने पर सरकार आरोप लगाया। अजय प्रताप ने कहा कि जल्द ही प्रांतीय नेतृत्व के निर्देश पर शिक्षामित्रों का आंदोलन होगा। इस दौरान ललित नारायण त्रिपाठी, कमलेश कुमार, अनित पटेल, राकेश, अंजू अवस्थी, अनिल यादव, नीलू तिवारी आदि। 

वेतन व बोनस न मिलने से शिक्षामित्रों ने बैठक कर जताया आक्रोश: औरैया –  त्योहार से पहले मानदेय न मिलने से शिक्षामित्रों की दिवाली फीकी रहेगी। शिक्षामित्र संघ ने बैठक कर नाराजगी जताई और बीएसए से जल्द मानदेय दिलाने की मांग की है। बुधवार को औरैया में Uttar pradesh prathmik shiksha mitra sangh की बैठक हुई। जिलाध्यक्ष संतोष कुमार दुबे ने बताया कि राज्य सरकार ने samayojit shiksha mitra का जुलाई माह का अवशेष व अगस्त, सितंबर माह का वेतन और बोनस दिवाली से पहले देने को कहा था। उसके बावजूद अभी तक उनका वेतन नहीं आया है। वहीं, शिक्षामित्रों को भी अभी तक सरकार की ओर से तय दस हजार रुपये के अनुसार मानदेय नहीं मिला। मानदेय न मिलने से शिक्षामित्रों की दिवाली फीकी हो गई है।

पढ़ें- सोशल मीडिया खबरों को लेकर शिक्षामित्र संगठन आपस में भिड़े

shiksha mitra news today live पढ़ने के लिए आप हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब कर सकते है। जिससे आपको हमारे ब्लॉग की लेटेस्ट पोस्ट का नोटिफिकेशन मिल सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.