कलेक्ट्रेट से बीएसए दफ्तर तक गरजे Shikshamitra

प्रतापगढ़ बुधवार को शासन के अपर सचिव से शिक्षा मित्र संगठन के पदाधिकारियों से हुई वार्ता विफल होने के बाद गुरुवार को शिक्षामित्रों का सैलाब आंदोलन को उमड़ पड़ा। दोपहर तक कचहरी में प्रदर्शन के बाद पैदल मार्च करते हुए सभी शिक्षामित्र बीएसए कार्यालय पहुंचे। वहां गांधीगीरी करते हुए झाड़ू लगाने के बाद बीएसए को ज्ञापन सौंपा गया। इसके बाद पुन: कचहरी पहुंचकर एसडीएम सदर को ज्ञापन सौंपा गया। उम्मीद से अधिक हुई भीड़ देख प्रशासन के हाथ पांव फूलने लगे।

आदर्श समायोजित शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन की प्रांतीय सचिव एवं जिलाध्यक्ष रीना सिंह ने कचहरी में कहा कि मुख्यमंत्री ने एक अगस्त को हुई वार्ता में कहा था 15 दिन का समय दीजिए स्थायी समाधान निकालेंगे। वहीं अपर सचिव ने 10 एवं 16 अगस्त को हुई वार्ता में कहा कि 10 हजार मानदेय व शिक्षामित्र का पद दूंगा लेना हो तो लो। उन्होंने कहा कि हमने जो त्याग व तपस्या की है उसे बरबाद नहीं होने देंगे।

हमारे शिक्षामित्र एक शिक्षक की भांति कार्य किए हैं और जहां भी जिस मिशन में शिक्षामित्रों को खड़ा किया गया वह पूरी निष्ठा व लगन के साथ खरे उतरे हैं। उन्होंने कहा कि हम सरकार की हठधर्मिता के आगे नहीं झुकेंगे। रीना सिंह ने कहा कि अपर सचिव से अब कोई भी वार्ता नहीं होगी। मुख्यमंत्री से ही अब हमारा संगठन वार्ता करेगा और सामान कार्य का समान वेतन के सिवाय कुछ भी मंजूर नहीं होगा।

जिलाध्यक्ष ने बताया कि जब तक सहायक अध्यापक पद बहाल नहीं किया जाता 21 अगस्त से लखनऊ में अनिश्चित कालीन धरना प्रदर्शन किया जाएगा। दोपहर बाद जब शिक्षामित्रों का सैलाब अंबेडकर चौराहे पहुंचा तो यातायात थम गया। आगे रोडवेज बस स्टेशन से बीएसए कार्यालय तक नारेबाजी करते हुए सैकड़ों महिलाएं व पुरुष शिक्षामित्र चल रहे थे। बीएसए कार्यालय में रीना सहित अन्य पदाधिकारियों ने कार्यालय के बाहर एवं बरामदे में झाड़ू लगाने के बाद बीएसए बीएन सिंह को ज्ञापन सौंपा।

वहां से पुन: कचहरी पहुंचकर जमकर नारेबाजी की गई। इस दौरान महामंत्री रामकृष्ण विश्वकर्मा, राजकुमार शुक्ल, शशिकांत, सुरेश चौधरी, सरला सिंह, आशा पांडेय, आदित्य, राजेश मिश्र, नारेंद्र सिंह, कमलेंद्र सिंह, देवेंद्र पुष्पाकर, गंगाराम दुबे, रीना दुबे, पंकज सिंह, अनीता, नीलम आदि मौजूद रहीं।

संयम न खोएं, बेसिक शिक्षा परिवार है साथ : बीएसए बीएन सिंह ने कार्यालय में शिक्षामित्रों का ज्ञापन लेते हुए कहा कि बेसिक शिक्षा परिवार उनके साथ है। सभी शिक्षा मित्र शांति के साथ अपना आंदोलन चलाएं। वह अपना संयम न खोएं। उन्होंने ज्ञापन को शासन तक ईमेल से तुरंत भेजने की बात कही।

अंबेडकर चौराहे पर धरने के दौरान नारेबाजी करतीं शिक्षामित्र, अंबेडकर चौराहे पर वाहनों का लगा जाम, बीएसए कार्यालय का घेराव करने जाता शिक्षामित्रों का हुजूम

वार्ता विफल होने पर आंदोलन के लिए शिक्षामित्रों की उमड़ भीड़ गांधीगीरी करते हुए झाड़ू लगाने के बाद बीएसए को सौंपा ज्ञापनदोनों संगठनों ने मिलाए हाथ

प्रतापगढ़ : प्राथमिक शिक्षा मित्र संघ के जिलाध्यक्ष सत्येंद्र शुक्ल सहित उनके संगठन के लोगों ने आदर्श समायोजित शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन के बैनर तले एक साथ मिलकर आंदोलन करने को समर्थन दिया। गुरुवार को हुए धरना प्रदर्शन में उनका संगठन भी सहभागी रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *