कलेक्ट्रेट से बीएसए दफ्तर तक गरजे Shikshamitra

प्रतापगढ़ बुधवार को शासन के अपर सचिव से शिक्षा मित्र संगठन के पदाधिकारियों से हुई वार्ता विफल होने के बाद गुरुवार को शिक्षामित्रों का सैलाब आंदोलन को उमड़ पड़ा। दोपहर तक कचहरी में प्रदर्शन के बाद पैदल मार्च करते हुए सभी shikshamitra BSA office पहुंचे। वहां गांधीगीरी करते हुए झाड़ू लगाने के बाद BSA को ज्ञापन सौंपा गया। इसके बाद पुन: कचहरी पहुंचकर एसडीएम सदर को ज्ञापन सौंपा गया। उम्मीद से अधिक हुई भीड़ देख प्रशासन के हाथ पांव फूलने लगे। adarsh samayojit shikshak welfare association की प्रांतीय सचिव एवं जिलाध्यक्ष रीना सिंह ने कचहरी में कहा कि मुख्यमंत्री ने एक अगस्त को हुई वार्ता में कहा था 15 दिन का समय दीजिए स्थायी समाधान निकालेंगे। वहीं अपर सचिव ने 10 एवं 16 अगस्त को हुई वार्ता में कहा कि 10 हजार मानदेय व shikshamitra का पद दूंगा लेना हो तो लो। उन्होंने कहा कि हमने जो त्याग व तपस्या की है उसे बरबाद नहीं होने देंगे।

पढ़ें- शिक्षामित्रों का धरना प्रदर्शन – पीलीभीत

हमारे shikshamitra एक teacher की भांति कार्य किए हैं और जहां भी जिस मिशन में shikshamitra को खड़ा किया गया वह पूरी निष्ठा व लगन के साथ खरे उतरे हैं। उन्होंने कहा कि हम सरकार की हठधर्मिता के आगे नहीं झुकेंगे। रीना सिंह ने कहा कि अपर सचिव से अब कोई भी वार्ता नहीं होगी। मुख्यमंत्री से ही अब हमारा संगठन वार्ता करेगा और सामान कार्य का समान वेतन के सिवाय कुछ भी मंजूर नहीं होगा। जिलाध्यक्ष ने बताया कि जब तक assistant teacher पद बहाल नहीं किया जाता 21 अगस्त से लखनऊ में अनिश्चित कालीन धरना प्रदर्शन किया जाएगा। दोपहर बाद जब shikshamitron का सैलाब अंबेडकर चौराहे पहुंचा तो यातायात थम गया। आगे रोडवेज बस स्टेशन से BSA office तक नारेबाजी करते हुए सैकड़ों महिलाएं व पुरुष shikhsamitra चल रहे थे। BSA office में रीना सहित अन्य पदाधिकारियों ने कार्यालय के बाहर एवं बरामदे में झाड़ू लगाने के बाद बीएसए बीएन सिंह को ज्ञापन सौंपा।

पढ़ें- वार्ता विफल शिक्षामित्रों का आंदोलन आज से

वहां से पुन: कचहरी पहुंचकर जमकर नारेबाजी की गई। इस दौरान महामंत्री रामकृष्ण विश्वकर्मा, राजकुमार शुक्ल, शशिकांत, सुरेश चौधरी, सरला सिंह, आशा पांडेय, आदित्य, राजेश मिश्र, नारेंद्र सिंह, कमलेंद्र सिंह, देवेंद्र पुष्पाकर, गंगाराम दुबे, रीना दुबे, पंकज सिंह, अनीता, नीलम आदि मौजूद रहीं। संयम न खोएं, बेसिक शिक्षा परिवार है साथ : बीएसए बीएन सिंह ने कार्यालय में शिक्षामित्रों का ज्ञापन लेते हुए कहा कि Basic education परिवार उनके साथ है। सभी shikshamitra शांति के साथ अपना आंदोलन चलाएं। वह अपना संयम न खोएं। उन्होंने ज्ञापन को शासन तक ईमेल से तुरंत भेजने की बात कही। अंबेडकर चौराहे पर धरने के दौरान नारेबाजी करतीं shikshamitra, अंबेडकर चौराहे पर वाहनों का लगा जाम, BSA office का घेराव करने जाता शिक्षामित्रों का हुजूम वार्ता विफल होने पर आंदोलन के लिए शिक्षामित्रों की उमड़ भीड़ गांधीगीरी करते हुए झाड़ू लगाने के बाद बीएसए को सौंपा ज्ञापनदोनों संगठनों ने मिलाए हाथ

पढ़ें- शिक्षामित्रों का आंदोलन फिर शुरू

प्रतापगढ़ : Uttar pradesh prathmik shiksha mitra sangh के जिलाध्यक्ष सत्येंद्र शुक्ल सहित उनके संगठन के लोगों ने adarsh samayojit shikshak welfare association के बैनर तले एक साथ मिलकर आंदोलन करने को समर्थन दिया। गुरुवार को हुए धरना प्रदर्शन में उनका संगठन भी सहभागी रहा।

Shikshamitra from Collectorate to BSA office

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.