मुख्यमंत्री आवास पर बुधवार को माध्यमिक कंप्यूटर अनुदेशकों का धरना प्रदर्शन

मांगों को लेकर मुख्यमंत्री आवास पर बुधवार को धरना देने जा रहे माध्यमिक कंप्यूटर अनुदेशकों पर पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया, जिसमें आधा दर्जन से अधिक महिलाओं को चोटें आईं। तीन पुरुष अनुदेशक बेहोश हो गए। पुलिस ने अनुदेशकों को पार्क रोड स्थित माध्यमिक शिक्षा परिषद निदेशालय तक खदेड़ दिया। जहां वे दिनभर धरने पर बैठे रहे। दोपहर बाद मुख्यमंत्री के विशेष सचिव से आश्वासन मिलने के बाद धरना स्थगित कर दिया।

माध्यमिक कंप्यूटर अनुदेशक एसोसिएशन के बैनर तले प्रदेशभर से आए सैकड़ों अनुदेशक पार्क रोड स्थित माध्यमिक शिक्षा परिषद निदेशालय पर एकत्र हुए। इसकी सूचना पाते ही भारी पुलिसबल मौके पर तैनात कर दिया गया। लगभग 11 बजे अनुदेशक मुख्यमंत्री आवास पर धरना देने के लिए बढ़ने लगे। पुलिसकर्मियों ने उनको रोकने का प्रयास किया पर वे नहीं माने। कालिदास मार्ग चौराहे पर वे बैरीकेडिंग गिराने लगे। इनको उग्र होते देख पुलिस ने लाठीचार्ज शुरू कर दिया।

एसोसिएशन के संरक्षक चेतनारायण सिंह ने बताया कि संगठन तीन वर्षो से मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहा है। माध्यमिक विद्यालयों में बनी कंप्यूटर लैब धूल फांक रहीं हैं। शिक्षण कार्य में लगे चार हजार से अधिक अनुदेशक बेरोजगारी और भुखमरी की कगार पर हैं। महामंत्री अनिरुद्ध पांडे ने मुख्यमंत्री के विशेष सचिव अजय सिंह ने नए सत्र से कंप्यूटर लैब को शुरू कर अनुदेशकों की बहाली का आश्वासन दिया है। प्रदेश सरकार के आगामी बजट में अनुदेशकों के मानदेय का बजट भी शामिल करने को कहा है। इसके बाद धरना स्थगित कर दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *