अधीनस्थ शिक्षा प्रशिक्षित स्नातक श्रेणी में एल टी ग्रेड शिक्षक हेतु परिषदीय शिक्षकों को प्रतिनियुक्ति विषयक व मानदेय शिक्षकों हेतु पत्र जारी।

राजकीय इंटर कॉलेजों में होने वाली 9,437 एलटी ग्रेड और 2600 प्रवक्ता पदों पर होने वाली भर्ती प्राइमरी स्कूलों के शिक्षकों से प्रतिनियुक्ति के आधार पर करने का रास्ता साफ हो गया है। यदि रिक्त पद इन शिक्षकों से नहीं भरते तो ही रिटायर शिक्षकों को मौका दिया जाएगा। इस संबंध में शासनादेश जारी कर दिया गया है।

ये प्रतिनियुक्ति 31 मार्च 2019 या रिक्त पदों के सापेक्ष नियुक्ति होने तक होगी। वहीं रिटायर शिक्षक 31 मार्च, 2018 या रिक्त पदों के सापेक्ष नियुक्ति होने तक होगी और इनके लिए अधिकतम आयु सीमा 65 वर्ष होगी। प्रतिनियुक्ति पर आए अध्यापकों को कोई भत्ता देय नहीं होगा और वे भविष्य में माध्यमिक शिक्षा में संविलियन (मर्जर) की मांग नहीं करेंगे।

राजकीय इंटर कॉलेजों में लम्बे समय से शिक्षकों के काफी पद रिक्त चल रहे हैं। राज्य सरकार ने एलटी ग्रेड भर्ती लिखित परीक्षा के माध्यम से लोक सेवा आयोग द्वारा करवाने का निर्णय लिया है। इसमें समय लगना है लिहाजा फिलहाल इन्हें प्रतिनियुक्ति से भरा जाएगा।

पहले चरण में प्रतिनियुक्ति के लिए सरकारी प्राइमरी स्कूलों के वे शिक्षक आवेदन कर सकेंगे जो विशिष्ट बीटीसी के तहत भर्ती हुए हैं और जीआईसी में पढ़ाने की योग्यता रखते हैं। सरप्लस शिक्षकों की सूची बेसिक शिक्षा विभाग माध्यमिक शिक्षा विभाग को जिलावार उपलब्ध कराएगा।

डीआईओएस जिलावार स्कूलों में  उपलब्ध रिक्त पद विषयवार व स्कूलवार प्रकाशित कराएंगे। इसमें पात्र शिक्षक आवेदन कर सकेंगे। इन पदों के लिए साक्षात्कार लिया जाएगा। सरकारी या सहायताप्राप्त स्कूलों के रिटायर शिक्षक भी विषयवार आवेदन कर सकते हैं। लेकिन इन पर विचार तभी होगा जब प्राइमरी स्कूलों के शिक्षकों से पद नहीं भरेंगे। संबंधित रिटायर शिक्षक के अंतिम आहरित वेतन से पेंशन की धनराशि घटाने के बाद जो धनराशि बचेगी, वहीं मानदेय दिया जाएगा।

ऐसे होगी नियुक्ति
जिला, मंडल व राज्य स्तर पर चयन समिति- जिलाधिकारी या उनके द्वारा नामित सदस्य की अध्यक्षता में चयन समिति बनेगी जिसमें डायट प्राचार्य, डीआईओएस और बीएसए सदस्य होंगे। पहले चरण में समिति शिक्षकों और रिटायर शिक्षकों से आवेदन लेगी।

यदि इसके बाद भी पद रिक्त रह जाएंगे तो दूसरे चरण पर मंडल स्तर पर चयन समिति बनाई जाएगी।  इसमें जेडी, मंडल मुख्यालय के डायट प्राचार्य और एडी बेसिक सदस्य होंगे। यह समिति मंडल स्तर पर उपलब्ध प्राइमरी स्कूलों के शिक्षकों से रिक्त पद भरेगी।

यदि इसके बाद भी पद खाली रह जाते हैं तो तीसरे चरण में राज्य स्तर पर अपर निदेशक माध्यमिक की अध्यक्षता में समिति बनाई जाएगी जिसके सदस्य अपर शिक्षा निदेशक-बेसिक, सचिव-बेसिक शिक्षा परिषद व जेडी अर्थ होंगे। livehindustan

अधीनस्थ शिक्षा प्रशिक्षित स्नातक श्रेणी में एल टी ग्रेड शिक्षक हेतु परिषदीय शिक्षकों को प्रतिनियुक्ति विषयक व मानदेय शिक्षकों हेतु पत्र जारी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *