उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ ने शिक्षकों के चयन और प्रोन्नति पर एक वेतन वृद्धि की मांग की

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ ने शिक्षकों के चयन और प्रोन्नति पर एक वेतन वृद्धि की मांग की है। सातवें वेतन आयोग की संस्तुतियां पर संघ ने शासन से पहल करने की बात कही है। ठकुरई गुट के प्रदेश महामंत्री लालमणि द्विवेदी का कहना है कि दिसंबर 2017 से राजकीय व सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों के प्रवक्ता एवं एलटी ग्रेड शिक्षकों के चयन वेतनमान के वेतन निर्धारण की व्यवस्था नहीं थी। इसके कारण हजारों शिक्षकों के वेतनमान व प्रोन्नत वेतनमान से वंचित थे।

यह भी पढ़े –

21 अगस्त को इसका स्पष्टीकरण शासन को भेज दिया गया है। प्रोन्नत वेतनमान प्राप्त होने पर एक वेतनवृद्धि का लाभ प्रदान नहीं किया गया, बल्कि वेतन मैटिक्स में वर्तमान लेवल में उनके ठीक अगले स्तर पर निर्धारित की जाएगी। माध्यमिक विद्यालयों में सभी शिक्षकों के पदोन्नति की कोई सुनिश्चित व्यवस्था नहीं है। जिन विषयों में विद्यालयों में प्रवक्ता के पद उपलब्ध हो जाते हैं, उन्हें लाभ मिल जाता है। शेष सभी अपने मूल पदों से सेवानिवृत्ति हो जाते हैं। इस कारण शिक्षकों को चयन और प्रोन्नत वेतन पर एक वेतनवृद्धि का लाभ दिया जाना चाहिए।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *