उत्तर प्रदेश के प्राइमरी स्कूलों में अब गुलाबी व भूरे रंग की यूनिफार्म

सरकारी प्राइमरी स्कूलों के बच्चों को अब इन परम्परागत रंगों से निजात मिलेगी। उन्हें गाढ़े गुलाबी और भूरे रंग के चेकदार कपड़े की शर्ट और भूरे रंग का पैंट या स्कर्ट यूनिफार्म के तौर पर देने की तैयारी है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने यूनिफार्म के रंगों पर अपनी सहमति दे दी है। बेसिक शिक्षा विभाग इसके आधार पर यूनिफार्म के लिए आदेश जारी करने की तैयारी कर रहा है।

चर्चा के बाद फैसला: सीएम यूनिफार्म के मौजूदा खाकी रंग से असहमत थे और उन्होंने रंग बदलने के निर्देश दिए थे। उन्होंने अपने मंत्रियों से रंग पर चर्चा की तो यूनिफार्म का रंग भगवा, केसरिया लाल के करने के सुझाव आए लेकिन उन्होंने साफ किया कि यूनिफार्म का रंग बच्चों की पसंद का होगा। लिहाजा उन्होंने बच्चों को पसंद आने वाले रंगों को अपनी सहमति दी है। गाढ़े गुलाबी और भूरे रंग के चेक की शर्ट और भूरे रंग का पैंट या स्कर्ट बनवाया जाएगा। हालांकि पैटर्न बदलने पर सहमति नहीं बन सकी। सूत्रों के मुताबिक, सेंट्रल स्कूल के पैटर्न पर यूनिफार्म बनाने पर चर्चा की गई लेकिन इस पैटर्न में न सिर्फ कपड़ा ज्यादा लगेगा बल्कि सिलाई भी ज्यादा होगी। इस बार जूते मोजे भी सरकार ही देगी। इसका प्रस्ताव भी तैयार हो चुका है।

पूर्ववर्ती सपा सरकार ने यूनिफार्म का रंग हल्के नीले व नेवी ब्लू रंग से बदल कर खाकी कर दिया था। न नीला और न ही नेवी ब्लू.. और न ही खाकी..

रंग को  Chief Minister की मंजूरी

बच्चो की पसंद के रंग पर ही मुख्यमंत्री ने दी सहमति
पैट्रर्न बदलने पर नहीं बानी आमराय, बढ़ जाती लगत
200 रूपये प्रति स्टूडेंट देती है सरकार यूनिफार्म के लिए
02 करोड़ बच्चों को पुरे प्रदेश में जानी है यूनिफार्म

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *