पीजीटी 2013 का परिणाम सबसे पहले होगा घोषित

इलाहाबाद माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड के की प्रक्रिया शासन स्तर पर अंतिम दौर में है। अध्यक्ष और सदस्यों के नाम तक फाइनल हो चुके हैं लेकिन, बोर्ड सचिव के पास अब तक कोई आदेश न आने से गठन पर असमंजस कायम है। हालांकि भर्ती परिणाम की फाइलें तैयार की जाने लगीं हैं ताकि बोर्ड का गठन होते ही प्रक्रिया को तेजी से चालू किया जा सके। सबसे पहले 2013 के पीजीटी इतिहास प्रवक्ता के 60 पदों का परिणाम जारी होने की उम्मीद लगाई जा रही है।

पीजीटी इतिहास प्रवक्ता के 60 पदों पर भर्ती के लिए माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड ने सितंबर 2016 में साक्षात्कार कराया था। 330 अभ्यर्थियों को साक्षात्कार के लिए बुलाया गया था लेकिन, कुछ प्रश्नों पर विवाद के चलते कई अभ्यर्थी हाईकोर्ट चले गए थे। हाईकोर्ट ने अपने फैसले में आठ सप्ताह में परिणाम जारी करने का आदेश दिया था। इस बीच सितंबर 2017 में बोर्ड के भंग हो जाने पर परिणाम अटक गया। चयन बोर्ड ने भी कह दिया कि अध्यक्ष सहित सदस्यों की समिति का गठन होते ही परिणाम जारी किया जाएगा। इसके बाद भी बोर्ड का नहीं हो सका और अभ्यर्थियों ने काफी आंदोलन भी किया। फिलहाल शासन स्तर पर बोर्ड के गठन की प्रक्रिया अंतिम दौर में है। कहा जा रहा है कि माध्यमिक शिक्षा परिषद उप्र इलाहाबाद की सचिव साथ ही माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव के पास शासन से आदेश आना बाकी रह गया है। बुधवार शाम तक ऐसा कोई आदेश नहीं आ सका। वहीं बोर्ड कार्यालय ने रुकी हुई भर्ती प्रक्रिया शुरू करने और परिणाम भी जारी करने की फाइलें तैयार कर रखी हैं। शासन से आदेश होते ही प्रक्रिया शुरू होगी।

पुनर्गठन

  • माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड में तैयार होने लगीं भर्ती और परिणाम की फाइलें
  • कुछ प्रश्नों पर विवाद के चलते हाईकोर्ट चले गए थे कई अभ्यर्थी
  • सितंबर 2017 में बोर्ड के भंग हो जाने पर अटक गया परिणाम
  • बुधवार शाम तक नहीं आ सका था ऐसा कोई आदेश

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *