परिषदीय शिक्षकों के अंतर जिला तबादलों के लिए ऑनलाइन आवेदन 16 जनवरी से

प्रदेश के परिषदीय स्कूलों के शिक्षकों के अंतर जिला तबादलों की प्रक्रिया शुरू हो गई है। अंतर जिला स्थान्तरण के लिए 16 जनवरी से ऑनलाइन आवेदन लेने का प्रस्ताव है। तबादले की वरीयता गुणवत्ता अंक के आधार पर तय की जाएगी। 13 जनवरी को तबादलों के लिए विज्ञप्ति का प्रकाशन प्रस्तावित है। अंतर जिला तबादले के लिए आवेदन 16 जनवरी से ऑनलाइन शुरू हो जाएंगे। अध्यापकों को ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया के लिए एक हफ्ते का समय दिया जाएगा। ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तारीख 23 जनवरी होगी। अंतर जिला स्थान्तरण के लिए काउंसिलिंग 27 जनवरी को होगी। शिक्षकों द्वारा किये गये आवेदन को ऑनलाइन सत्यापित के लिए जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी के लिए अंतिम तारीख 31 जनवरी होगी। अंतर जिला स्थान्तरण की सूची को फरवरी के दूसरे हफ्ते में जारी करने का इरादा है।

पढ़ें- शिक्षकों का हो सकता है पसंदीदा जिले में तबादला

अंतर जिला स्थान्तरण के लिए बनाई गई निति के अनुसार इच्छुक शिक्षकों को ऑनलाइन आवेदन में वरीयता क्रम में तीन जिलों का विकल्प देना होगा। तबादला शिक्षकों द्वारा दिए गये क्रम में प्रथम विकल्प के तौर पर किया जाएगा। उनका स्थानांतरण उनके द्वितीय विकल्प और बाकी बचे अध्यापकों का उनके तीसरे विकल्प के आधार पर किया जाएगा। यदि पति-पत्नी दोनों में से कोई एक प्रदेश सरकार की सेवा में हो तो उन्हें यथासंभव एक ही जिले में तैनाती दी जाएगी। अध्यापकों को ऑनलाइन आवेदन के साथ संबंधित दस्तावेज भी अपलोड करने होंगे।

पढ़ें- शिक्षक भर्ती और अंतरजनपदीय स्थानांतरण में टकराव? 

ऐसे तय होंगे गुणवत्ता अंक

  • दिव्यांगता के लिए पांच अंक
  • स्वयं या पति/पत्नी या बच्चे के असाध्य/गंभीर बीमारी से ग्रस्त होने पर पांच अंक
  • महिला शिक्षक के लिए पांच अंक
  • सेवा के प्रत्येक वर्ष के लिए एक अंक (अधिकतम 35 अंक)
  • सेवाकाल के आधार पर यदि दो शिक्षकों के समान अंक होते हैं और केवल एक का ही तबादला किया जा सकता है तो ऐसी स्थिति में उनमें से अधिक आयु वाले अध्यापक को वरीयता दी जाएगी।

Online Application for Inter-District Transfers of parishadiya shikshak from January 16

parishadiya shikshak transfer from 16 jan

0 Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.