धैर्य बनाए रखें समायोजित शिक्षक

Aadarsh Shiksha Mitra Welfare Association Uttar Pradesh & Uttar Pradesh Prathmik Shiksha Mitra अलग-अलग स्थानों पर रविवार को बैठक हुई। दोनों संगठनों की बैठक में सुप्रीम कोर्ट में चल रहे मुकदमें को लेकर चर्चा की गई। समायोजित शिक्षकों को दोनों संगठनों ने भरोसा दिलाया कि वे धैर्य बनाए रखें। जल्दबाजी में कोई ऐसा कदम न उठाएं जिससे परिवार व समाज के लिए दुखदायी हो। संगठन का मानना है कि सुप्रीम कोर्ट में अधिवक्ताओं का पैनल मुकदमें की पैरवी के लिए खड़ा किया जाएगा। समायोजित शिक्षकों को किसी तरह से घबराने की जरूरत नहीं है।

केन्द्र व प्रदेश सरकार समायोजित शिक्षकों के साथ: एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष दिनेश चन्द्रा की अध्यक्षता में रविवार को हुई बैठक में सुप्रीम कोर्ट में आठ व नौ मई को होने वाली सुनवाई के बारे में विचार विमर्श किया गया। उन्होंने कहा कि कोर्ट में मजबूती से समायोजित शिक्षकों का पक्ष रखने के लिए बड़े से बड़ा वकील किया जायेगा। जिला महामंत्री प्रदीप यादव ने कहा कि समायोजित शिक्षकों के लिए संगठन आरपार की लड़ाई हमेसा करता रहेगा। बैठक में सुप्रीम कोर्ट में भी मजबूती से पक्ष रखने की तैयारी बनाई गई है। मीडिया प्रभारी सुतीक्ष्ण तिवारी ने बताया कि केन्द्र और प्रदेश सरकार समायोजित शिक्षकों का पक्ष रखने के लिए सुप्रीम कोर्ट में अपने अधिकारयों को लगाया है।

उन्होंने कहा कि कोर्ट में मजबूती से मजबूती से समायोजित शिक्षकों का पक्ष रखने के लिए नामी गिरामी वकील का पैनल खड़ा किया जाएगा। जिला महामंत्री प्रदीप यादव ने कहा कि संगठन समायोजित शिक्षकों के लिए आरपार का संघर्ष करता रहेगा। Supreme Court में भी मजबूती से पक्ष रखने की रणनीति बनाई गई है। मीडिया प्रभारी सुतीक्ष्ण तिवारी ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट में समायोजित शिक्षकों का पक्ष रखने के लिए केन्द्र और प्रदेश सरकार अपने अधिकारयों को लगाया है।

पढ़ें- 1.75 लाख शिक्षामित्रों की नौकरी संकट में 

Maintain Patience Samyojit Shikshamitra, do not despair and desperate Samyojit Teacher, hope for justice

Maintain Patience Samyojit Shikshamitra

Shiksha mitra news today live in hindi पढ़ने के लिए आप हमारे ब्लॉग को Subscribe कर सकते है। जिससे आपको हमारे Blog की Latest Post का Notification मिल सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.