एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती लिखित परीक्षा के दौरान ओएमआर शीट पर अभ्यर्थियों ने गलत प्रविष्टियां भरी

Teacher Recruitment 2018 की लिखित परीक्षा के दौरान स्पष्ट निर्देश लिखे होने के बाद भी अभ्यर्थियों ने ओएमआर शीट पर जरूरी कॉलम गलत भर दिए हैं। ऐसे अभ्यर्थियों ने अब उप्र लोक सेवा आयोग से ओएमआर शीट में सुधार करने की मांग की है। उप्र लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) ने ऐसी गलतियों में मानवीयता के आधार पर सुधार के लिए आश्वासन भी दिया है। सुधार के बाद ही स्कैनिंग व परिणाम तैयार करने की प्रक्रिया होगी।

राजकीय माध्यमिक कालेजों में सहायक अध्यापक प्रशिक्षित स्नातक के 10768 पदों पर भर्ती की लिखित परीक्षा में अभ्यर्थी शामिल हुए थे। शिक्षक भर्ती लिखित परीक्षा में पहले आवेदन करने वाले अभ्यर्थी भी थे। यूपीपीएससी द्वारा कराये जाने वाली प्रतियोगी परीक्षाओं में लगातार इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर चुके और यहां तक कि पीसीएस परीक्षा में भी दो से तीन बार शामिल हो चुके अभ्यर्थी शामिल हुए। इनके अलावा नए अभ्यर्थियों ने भी अपनी किस्मत आजमाने के लिए आवेदन किया था। परीक्षा के दिन 29 जुलाई को तो किसी ने केंद्रों पर ओएमआर शीट में गलत जानकारी भर दिए जाने की सूचना केंद्र व्यवस्थापकों को नहीं दी, लेकिन यूपीपीएससी में भूल सुधार को आए आवेदन बताते हैं कि कई जिलों में अभ्यर्थियों ने ओएमआर शीट पर गलतियां करी थी। किसी ने सीरीज भरने में गलती की और तो और किसी ने अपना अनुक्रमांक ही गलत भर दिया। कई अन्य प्रविष्टियां भी गलत भरी गईं जिसमें सुधार करने की मांग अभ्यर्थियों द्वारा की गई है।

यूपीपीएससी के सचिव जगदीश ने बताया है कि प्रत्यावेदन लगातार मिल रहे हैं। किसी ने बड़ी तो किसी ने मामूली गलती की है। उन्होंने कहा कि ओएमआर शीट की स्कैनिंग से पहले जितना हो सकेगा गलतियों में सुधार कराया जाएगा। प्रविष्टियां ‘मिसमैच’ होने की जानकारी प्रश्नपत्रों व ओएमआर शीट की सीरीज मिलान से भी पकड़ में आ जाएगी और स्कैनिंग से भी।

पढ़ें- Uttar Pradesh Madhyamik Shikshak Sangh raise demand for shikshak salary

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.