कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालयों की समस्याएं जल्द दूर होंगी

अलीगढ़ : कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालयों में छात्रओं को अब उनके दैनिक दिनचर्या की जरूरी चीजें पर्याप्त मात्र में व समय पर मुहैया होंगी। इस बार कस्तूरबा विद्यालयों के लिए बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से दो करोड़ रुपये बढ़ाकर 6.50 करोड़ रुपये का बजट मांगा गया है। पिछले साल तक ये बजट साढ़े चार करोड़ रुपये का था। अफसरों का कहना है कि कस्तूरबा विद्यालयों में छात्रओं की जरूरत को दृष्टिगत रखते हुए सरकार बजट में कटौती नहीं करती है।

जुलाई में स्कूल खुलने पर प्रस्तावित बजट प्राप्त होने की उम्मीदें ज्यादा हैं। जिले में नगर क्षेत्र व 12 ब्लॉकों को मिलाकर हर ब्लॉक में एक विद्यालय के हिसाब से कुल 13 कस्तूरबा विद्यालय हैं। कस्तूरबा विद्यालयों में छात्रओं के तेल, कंघा, साबुन, खाद्य, पढ़ाई की जरूरी सामग्री व सेनेटरी पैड्स आदि तमाम वस्तुओं की व्यवस्था की जाती है। बढ़ती महंगाई व कम बजट के चलते छात्रओं को समय पर व उचित मात्र में उक्त सामान नहीं मिल पाते हैं। अब इस समस्या से छात्रओं को छुटकारा मिलने की संभावना है।

इस संबंध में बीएसए धीरेंद्र कुमार का कहना है कि बढ़े बजट का प्रस्ताव शासन को भेजा है। जुलाई तक ग्रांट आने की संभावना है।  पिछले साल की अपेक्षा दो करोड़ अतिरिक्त बजट की मांग  समय पर मुहैया होगा दैनिक दिनचर्या का सामान.

पढ़ें- 36 जिलों में स्कूलों का जीआइएस मैपिंग गड़बड़

Kasturba Gandhi Balika Vidyalaya problems overcome soon

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.