परिषदीय स्कूलों के अंतर जिला तबादले की काउंसिलिंग पर रोक

इलाहाबाद :बेसिक शिक्षा परिषद स्कूलों के अंतर जिला स्थानांतरण की काउंसिलिंग व ऑनलाइन आवेदन पत्रों के सत्यापन के कार्य पर रोक लगा दी है। बेसिक शिक्षा परिषद के सचिव ने सभी जिलों के बीएसए को इस संबंध में निर्देश जारी किया है। इसमें कहा गया है कि प्रक्रिया को अगले आदेश तक स्थगित रखें। ऐसे संकेत हैं कि जल्द ही नए आवेदन लेने के बाद एक साथ प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जाएगा।

पढ़ें- शिक्षकों के अंतर जिला तबादले की अभी नहीं बढ़ी तारीख

परिषद के प्राथमिक व उच्च प्राथमिक स्कूलों के शिक्षक-शिक्षिकाओं के अंतर जिला तबादले की प्रक्रिया बीते 16 जनवरी से चल रही है। 29 जनवरी तक शिक्षकों से ऑनलाइन आवेदन लिए जा चुके हैं। तबादले की समय सारिणी के अनुसार ऑनलाइन आवेदन करने वाले शिक्षकों को एक फरवरी तक आवेदन की हार्ड कॉपी बीएसए कार्यालय में जमा करनी थी। उसकी तीन फरवरी को काउंसिलिंग और बेसिक शिक्षा अधिकारियों को पांच फरवरी तक आवेदनों का सत्यापन करना था। इस दौरान करीब 12 हजार से अधिक शिक्षकों ने अपने जिले में जाने के लिए आवेदन किया है। परिषद सचिव ने इस प्रक्रिया को अपरिहार्य कारणों से रोक दिया है।

पढ़ें- अंतर जिला तबादले में वेबसाइट व अन्य निर्देशों में बदलाव का इंतजार

अब काउंसिलिंग व आवेदन पत्रों का सत्यापन अगले निर्देशों के बाद ही होगा। असल में हाईकोर्ट ने पांच साल व उससे कम सेवा वाली अध्यापिकाओं को पति के निवास स्थान या फिर ससुराल वाले जिले में जाने के लिए आवेदन लेने का निर्देश दिया है। यह प्रकरण परिषद ने शासन को भेजा है। शासन जल्द ही संशोधित शासनादेश और वेबसाइट में संशोधन कराएगा। उसके बाद शिक्षिकाओं से आवेदन लिए जाने हैं। तैयारी है कि सभी आवेदन आने के बाद ही प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जाएगा। कोर्ट ने यह भी निर्देश दिया है कि सभी तबादले जिलों में रिक्त पदों के 25 फीसदी ही होंगे। यानी केवल 12 हजार शिक्षक ही इधर से उधर होंगे। teacher Inter-District Transfer Counseling

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *