टीईटी की परीक्षा होने से पहले ही साल्वर गैंग का भंडाफोड़

Special Task Force – STF ने teacher eligibility test की परीक्षा होने से पहले ही साल्वर गैंग का भंडाफोड़ कर दो ऑपरेटर को गिरफ्तार कर लिया है। लखनऊ की एसटीएफ ने बहरिया डिहवा निवासी संदीप पटेल पुत्र ओमकार नाथ व मऊआइमा किराव के रहने वाले शिवजी पटेल पुत्र राम अभिलाष को जार्जटाउन थाना क्षेत्र के हासिमपुर चौराहे से गिरफ्तार किया है। इन साल्वर गैंग के पास से 3 mobile, 31 Electronic device, 25 Device sticker, 28 Bluetooth device, सात सिम और करीब 10 हजार रुपये बरामद हुए हैं।

पढ़ें- टीईटी प्रश्नपत्र खोलने व पैक करने की होगी वीडियोग्राफी

त्रिवेणी सिंह एसटीएफ के एडिशनल एसपी लखनऊ ने बताया की इस साल्वर गैंग का सरगना इलाहाबाद के सुरेंद्र पाल व केएल पटेल हैं, जो कि विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में इसी प्रकार की धोखाधड़ी करके Competitive examinations के अभ्यर्थियों से अवैध वसूली करते हैं। एडिशनल एसपी लखनऊ ने बताया की केएल पटेल मध्य प्रदेश के चर्चित व्यापमं घोटाले में भी जेल जा चुका है। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार किये गए अभियुक्तों से पूछताछ करने पर यह में पता चला है कि इलेक्ट्रानिक डिवाइस की सप्लाई करने वाला साल्वर गैंग दिल्ली का है, जिसके बारे में और जानकारी STF जानकारी जुटा रही है। साथ ही साथ इस साल्वर गैंग में और कौन कौन शामिल है उनकी तलाशी में छापेमारी STF विभिन्न जगहों पर छापेमारी कर रही है।

पढ़ें- TET exams will be conducted at 1580 centers

Teacher Eligibility Test की परीक्षा 15 अक्टूबर को होनी है, और उससे पहले एसटीएफ के हाथ बड़ी सफलता लगी है। TET होने से पहले ही एसटीएफ ने परीक्षा को प्रभावित करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ कर दिया।

पढ़ें- Revised 1.17 lakhs UPTET Application

अभ्यर्थियों की रख लेते हैं मार्कशीट

एसटीएफ के एडिशनल एसपी लखनऊ त्रिवेणी सिंह ने यही भी बताया कि साल्वर गैंग सदस्य बहुत ही शातिर हैं। प्रतियोगी परीक्षाओं में भाग लेने वाले परीक्षार्थियों को उत्तीर्ण कराने का प्रलोभन देते हैं और उनसे पैसे लेने के बजाए उनकी ओरिजनल मार्कशीट अपने पास रख लेते हैं। फिर परीक्षा में पास होने वाले परीक्षार्थियों मनमानी पैसा बसूल करते है। उन्होंने बताय कि साल्वर गैंग रीक्षा के दौरान स्पाई डिवाइस का इस्तेमाल करते हैं। साथ ही कान में इयर प्लग यानी वायरलेस इयरफोन का इस्तेमाल करते हैं, जो आवाज नहीं करता है। और परीक्षा शुरू होते ऑपरेटर व साल्वर के इलेक्ट्रानिक डिवाइस आपस में कनेक्ट हो जाते हैं। साल्वर गैंग के सदस्य दो घंटे का पेपर 15 से 20 मिनट में सोल्व कर देते हैं

Exam solver gang busted before TET exams

exam solver gang busted before tet exam

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.