डीआईओएस बोले, भर्ती माफिया से जान का खतरा

शहर के सहायता प्राप्त स्कूलों में ‘भर्ती घोटाले’ का खुलासा करने वाले जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ. मुकेश कुमार सिंह को भर्ती माफिया से जान का खतरा है। उन्होंने शासन को एक गोपनीय पत्र लिखकर कार्रवाई करने को कहा है। डीआईओएस ने स्पष्ट लिखा है कि इस खुलासे से डीआईओएस पद के दायित्व निर्वहन करने में उनके चरित्र हनन, व्यक्तिगत तथा परिवार के सदस्यों की जान-माल को गंभीर नुकसान पहुंचाने का प्रयास किया जा सकता है।

डीआईओएस डॉ. मुकेश सिंह ने अभी तक शहर के 26 से ज्यादा सहायता प्राप्त स्कूलों में कर्मचारियों और शिक्षकों की नियुक्तियों में गड़बड़ी और नियम विरुद्ध तरीके से वेतन वितरण किए जाने की खुलासा कर चुके हैं। कई और स्कूलों के प्रकरण अभी सामने आना बाकी है। यह अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई मानी जा रही है।

इस भर्ती घोटाले में शिक्षा विभाग के कई आला अधिकारियों से लेकर राजनेताओं के नाम भी सामने आने की आशंका जताई जा रही है। यह पत्र अपर मुख्य सचिव माध्यमिक शिक्षा संजय अग्रवाल, शिक्षा निदेशक अमर नाथ वर्मा और संयुक्त शिक्षा निदेशक दीप चन्द को भेजा गया है।

डॉ. मुकेश सिंह ने बीते अप्रैल में डीआईओएस लखनऊ पद की जिम्मेदारी संभाली। उन्होंने सभी एडेड स्कूलों के दस्तावेजों की जांच शुरू की। जिसमें अब तक 50 से ज्यादा चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों और 30 से ज्यादा शिक्षकों की नियुक्ति व वेतन वितरण में गड़बड़ियां सामने आई हैं।

डीआईओएस ने लिखा है कि लालबाग गल्र्स इंटर कॉलेज, क्रिश्चियन इंटरमीडिएट कॉलेज, सेन्टीनियल इंटरमीडिएट कॉलेज, श्री दिगम्बर जैन इंटर कॉलेज, बाबा ठाकुरदास इंटर कॉलेज और कॉल्विन ताल्लुकेदार इंटर कॉलेज की प्रबंधकीय व नियुक्ति संबंधी पत्रवलियों में गड़बड़ियां मिली हैं। साफ लिखा है कि इन स्कूलों की जांच स्वतंत्र एजेंसी से कराया जाना अनिवार्य है।

नियुक्तियों व वेतन में गड़बड़ियां आईं सामने
एपी सेन मेमोरियल इंटर कॉलेज, आर्य कन्या पाठशाला, बालिका विद्या निकेतन, गल्र्स इंटर कॉलेज मुफ्तीगंज, बीएन लाल इंटर कॉलेज, बाबा ठाकुरदास इंटर कॉलेज, गांधी आदर्श विद्यालय, जन विकास उच्चतर विद्यालय, खालसा इंटर कॉलेज, लखनऊ क्रिश्चियन इंटर कॉलेज, शशिभूषण इंटर कॉलेज, शिया कॉलेज, सिंधी गल्र्स कॉलेज, सोहनलाल इंटर कॉलेज, नेशनल पीजी कॉलेज, स्वतंत्र कॉलेज, मुमताज कॉलेज, नवजीवन इंटर कॉलेज, रामाधीन सिंह इंटर कॉलेज, सत्यनारायण तिवारी इंटर कॉलेज समेत अन्य हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *