मुख्यमंत्री योगी बोले, नहीं बढ़ा सकते शिक्षामित्रों का मानदेय

कानपुर : andolite shikshamitra का प्रतिनिधिमंडल गुरुवार को Chandrashekhar Azad Agriculture and Technology University में आयोजित समारोह के दौरान Chief Minister Yogi Adityanath से मिला। शिक्षामित्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री से वार्ता में समान कार्य का समान वेतन की मांग की गई थी, लेकिन निराशा ही हाथ लगी। प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करने वाले shikshamitra त्रिभुवन सिंह ने बताया कि मुख्यमंत्री ने कहा कि दस हजार रुपये का निश्चित मानदेय ही उन्हें मिलेगा। इसमें बढ़ोत्तरी करना उनके अधिकार क्षेत्र में नहीं है।

पढ़ें- शिक्षामित्रों ने की समान कार्य समान वेतन की मांग

कोर्ट के आदेश पर shikshamitra mandey तय किया गया है। उन्होंने मुख्यमंत्री से समान कार्य समान वेतन के लिए निवेदन किया लेकिन उन्होंने उसे अस्वीकार कर दिया। कहा कि पहले shikshamitra mandey 3500 रुपये था जिसे सरकार ने बढ़ाकर दस हजार रुपये कर दिया है। शिक्षामित्रों ने कहा कि मुख्यमंत्री से उन्हें जो अपेक्षाएं थीं, वह पूरी न होने पर वे दिल्ली की ओर रुख करेंगे। हक की लड़ाई लड़ने के लिए दिल्ली में प्रदर्शन करेंगे। प्रतिनिधिमंडल में ध्रुव कुमार जायसवाल, श्याम सिंह भदौरिया, मनोज सिंह शामिल रहे। उनका कहना था कि हम लोगों को मुख्यमंत्री से हक मिलने की उम्मीद थी लेकिन अभी तक तो उन्होंने निराश ही किया है।

पढ़ें- नाराज शिक्षामित्रों ने बुलंद की आवाज, कई जिलों में धरना प्रदर्शन

शिक्षामित्र आंदोलन को देख सजग रहा रेलवे : Chief Minister Yogi Adityanath के शहर आगमन के दौरान sshikshamitra कहीं रेल रोककर आंदोलन न कर दें इसको लेकर रेलवे सतर्क रहा। आउटर पर फोर्स तैनात कर दी गई व पीएसी भी मंगा ली गई। एसपी रेल दीपक भट्ट सुबह ही सेंट्रल स्टेशन पर आ गए थे। Central Station व आउटर के आस-पास व्यवस्था की गई ताकि कोई गड़बड़ न हो।

पढ़ें- दस हजार मानदेय देने के फैसले से सहमत नहीं

विश्वविद्यालय के बंद कमरे में : sanyukt shiksha mitra sangharsh morcha के प्रदेश उपाध्यक्ष त्रिभुवन सिंह, ध्रुव जैसवाल, श्याम सिंह और मनोज सिंह को सीएम योगी आदित्य नाथ से मिलवाया गया। शिक्षा मित्रों ने कहा कि 10 thousand mandey मंजूर नहीं है। इस पर CM ने दो टूक कहा कि इससे ज्यादा mandey बढ़ा नहीं सकते हैं। shikshamitra बोले पहले 40 हजार मिलता था। कम से कम अब समान कार्य समान वेतन दें । जिससे वह लोग जीविकापार्जन कर सकें। इसमे सीएम ने कहा कि यह उनके कार्यक्षेत्र के बाहर है। इसलिए कानून व्यवस्था को हाथ में लेकर धरना-प्रदर्शन न करें। स्थितियों को देखते हुए काम करें। इस पर shikshamitron ने कहा कि अब वह दिल्ली में धरना-प्रदर्शन करेंगे।

Chief Minister Yogi said shikshamitra mandey can not increase

120 Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.