बीटीसी की सेमेस्टर परीक्षा का प्रवेशपत्र न मिलने पर छात्रों ने किया प्रदर्शन

इलाहाबाद : बीटीसी की सेमेस्टर परीक्षा का प्रवेशपत्र न मिलने पर छात्रों ने सोमवार को बवाल किया। एक छात्र हंगामा करते हुए नए यमुना पुल के टावर पर चढ़ गया। पुलिस उसे नीचे उतारने की कोशिश में जुटी थी तभी अन्य छात्रों ने पुल पर रास्ताजाम कर हंगामा शुरू कर दिया। गुस्साए छात्रों ने नारेबाजी की। इस बीच कैबिनेट मंत्री नंदी कार से वहां पहुंच गए। छात्रों ने उनकी कार के आगे प्रदर्शन कर हंगामा किया। अफसरों ने मशक्कत कर मंत्री को वहां से निकाला। हंगामे की वजह से कई घंटे तक नए यमुना पुल पर जाम लगा रहा। छह घंटे बाद फायर बिग्रेड की हाइड्रोलिक मशीन की मदद से छात्र को टावर से नीचे उतरा गया।

BTC Semester Examination का प्रवेश पत्र नहीं मिलने पर सोमवार दोपहर लगभग दोपहर 12 बजे बीटीसी छात्र पंकज कुमार नए यमुना पुल के 300 फिट ऊंचा टावर पर चढ़ गया। टावर पर चढ़े छात्र को नीचे उतारने की कवायद चल रही थी कि उसके दर्जनों साथी नए यमुना पुल पर पहुंचकर हंगामा करने लगे। जानकारी होते ही कीडगंज व नैनी पुलिस मौके पर पहुंची। जहां छात्रों और पुलिस कर्मियों की बीच घंटों नोकझोंक हुई। घंटों मशक्कत के बाद पुलिस ने न्याय दिलवाने का आश्वासन देकर रास्ताजाम समाप्त कराया। टावर पर चढ़े छात्र की मांग थी कि उसे प्रवेश पत्र दिया जाए और कालेज में हो रहे धांधली पर सख्त कार्रवाई की जाए। देर शाम तक छात्र के नहीं उतरने पर पुलिस ने फायर बिग्रेड की हाइड्रोलिक मशीन बुलाकर उसे नीचे उतारा।

बलिया जिला निवासी पंकज कुमार राम गंगापुरम स्थित किशोरी लाल महाविद्यालय में बीटीसी प्रथम वर्ष का छात्र है। वह नैनी में किराए के मकान में रहकर पढ़ाई रहा है। छात्र का कहना है कि मंगलवार को बीटीसी फस्ट समेस्टर की परीक्षा है। सोमवार सुबह प्रवेशपत्र लेने वह अपने अन्य साथियों के साथ कालेज पहुंचा था। आरोप है कि पहले समेस्टर की 41 हजार फीस जमा करने के बावजूद भी संस्थान प्रबंधक उसे डेढ़ लाख रुपये की मांग करने लगा। जिसपर छात्र ने छात्रवृत्ति के पैसे आने के बाद पूरी फीस जमा करने की बात कहीं, लेकिन संस्थान प्रबंधक उसकी बात नहीं सुनी और उसे वहां से लौटा दिया। इसी तरह कई छात्रों का यही हाल रहा। छात्रों ने आरोप था कि संस्थान के कर्मचारियों ने उनके साथ बदसलूकी भी की। जिसके बाद पंकज अपने अन्य साथियों संग नए यमुना पुल पर पहुंच कर टावर पर चढ़ गया। छह घंटे बाद फायर बिग्रेड की हाइड्रोलिक मशीन की मदद से छात्र का नीचे उतरा गया। इंस्पेक्टर अवधेश सिंह का कहना है कि छात्र ने प्रवेश लेने में धनउगाही का आरोप लगाया है। इसकी जांच की जाएगी।

पुल पर लगा रहा घंटों जाम1नैनी:  बीटीसी छात्र पंकज कुमार राम के समर्थन में साथी छात्रों ने पुल पर रास्ताजाम कर दिया। जिससे कारण नए यमुना पुल पर घंटों जाम लगा रहा है। वहीं टावर पर चढ़े छात्र को देखने के लिए पुल पर काफी भीड़ उमड़ी रही। जिसके वजह से चोरों तरफ यातायात बाधित रही। घंटों मशक्कत के बाद पुलिस कर्मियों ने भीड़ को तितर-बितर किया, तब जाकर जाम समाप्त हो सका।

छात्रों से मिलने पहुंचे विधायक नए यमुना पुल पर रास्ताजाम करने वाले छात्रों से मिलने बारा विधायक अजय भारती नैनी कोतवाली पहुंचे। उन्होंने टावर पर चढ़ने वाले छात्र पंकज कुमार और रास्ताजाम करने वाले छात्रों को आश्वस्त किया कि सभी को परीक्षा में शामिल होने दिया जाएगा। प्रवेशपत्र निर्गत कर दिया जाएगा और फीस में छूट भी मिलेगी। उन्होंने छात्रों से संयम बरतने की बात कही।

नहीं जारी किया प्रवेश पत्र निजी बीटीसी कालेजों में शत प्रतिशत प्रवेश प्राप्त छात्रों को परीक्षा में शामिल करने के सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के बावजूद प्रवेशपत्र जारी नहीं किया गया। आदेश के तहत जिले के डायट प्राचार्य द्वारा शेष रिक्त सीटों पर प्रबंधन समिति के माध्यम से दाखिल लिए गए थे। यह दाखिला 21 सितंबर 2016 को लिया गया था। परन्तु 21 फरवरी 2017 को डायट प्राचार्य ने प्रबंध समिति के दाखिले को निरस्त कर दिया था। इस आदेश के विरूद्ध उच्च न्यायालय में रिट दाखिल की गई थी। इसमें 18 अप्रैल से शुरू हो रही परीक्षा के प्रथम सेमेस्टर में सम्मिलित करने के लिए आदेश दिया गया गया था। परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय से सोमवार को प्रवेशपत्र नहीं जारी किया। इसके कारण हजारों छात्र प्रथम सेमेस्टर की परीक्षा में शामिल नहीं हो पाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.