अनुदेशकों को 17 हजार शिक्षामित्र पाएंगे 10,000 मानदेय

State Government की ओर से भेजे प्रस्ताव को Sarva Shiksha Abhiyan के Project Approval Board (PAB) ने अपनी मुहर लगाते हुए Parishadiya Prathamik School में appoint shikshamitron का monthly mandey लगभग तीन गुना बढ़ाते हुए 10 हजार रुपये करने पर सहमति जता दी है। वहीं Uchch Prathamik School में तैनात अंशकालिक अनुदेशकों के mandey को दोगुना बढ़ाते हुए 17 thousand rupees per month करने पर सहमती जतायी है। अंशकालिक अनुदेशकों को 8,470 रुपये और shikshamitron को अभी 3,500 रुपये मासिक मानदेय रहा है। अंशकालिक अनुदेशकों और shikshamitron के mandey में वृद्धि अप्रैल 2017 में लागू होगी। केंद्र सरकार के इस फैसले से 30,949 अंशकालिक अनुदेशकों और 26,504 shikshamitron को फायदा पहुंचेगा।

पढ़ें- शिक्षामित्रों के मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला सुरक्षित

Shikshamitron के लिए स्वीकृत 10 Hajar Rupee mandey में से उन्हें लगभग 7,700 रुपये मिलेंगे। शेष तकरीबन 2,300 रुपये उनकी Employee Provident Fund (EPF) में जमा होंगे। वहीं 15 हजार रुपये से अधिक मानदेय होने के लिए अंशकालिक अनुदेशकों के लिए Employee Provident Fund (EPF) अनिवार्य नहीं है। गौरतलब है कि राज्य सरकार ने Sarva Shiksha Abhiyan के तहत वित्तीय वर्ष 2017-18 के लिए पीएबी को 23,686 करोड़ रुपये की कार्य योजना भेजी थी। इसमें शिक्षामित्रों का मासिक कर 10 हजार रुपये और अंशकालिक अनुदेशकों के मानदेय में वृद्धि कर 17 हजार रुपये करने का प्रस्ताव था। 27 मार्च को नई दिल्ली में Sarva Shiksha Abhiyan के पीएबी की बैठक में केंद्र ने उप्र की ओर से भेजी गई वार्षिक कार्ययोजना में कटौती करते हुए उसे लगभग 21000 रुपये कर दिया था। पीएबी ने शिक्षामित्रों और अंशकालिक अनुदेशकों के ने के प्रस्ताव पर सहमति जतायी थी।

पढ़ें- पौने दो लाख शिक्षामित्रों के भाग्य का फैसला कल

स्कूलों में शौचालय के लिए 22.74 करोड़ रुपये मंजूर

केंद्र सरकार ने वित्तीय वर्ष 2017-18 में उप्र के लिए 20,688 करोड़ रुपये की कार्ययोजना मंजूर की है। इस कार्ययोजना में Parishadiya School में अतिरिक्त क्लास रूम के निर्माण के लिए 35.93 करोड़ रुपये, बालिका शौचालयों के लिए 12.07 करोड़ रुपये, बालक शौचालयों के लिए 10.67 करोड़ रुपये, पेयजल सुविधा के लिए 1.9 करोड़ रुपये और Uchch Prathamik School में girl toilet में इंसीनरेटर के लिए 9.13 करोड़ रुपये मंजूर किये हैं।

पढ़ें- Samayojit Shikshak बनाए रखें एकता

अप्रैल महीने से बैक डेट में लागू होगी मानदेय में यह बढ़ोतरी, सर्व शिक्षा अभियान के प्रोजेक्ट अप्रूवल बोर्ड ने लगाई प्रस्ताव पर मुहर

The proposal sent by the State Government has been approved by the Project Approval Board (PAB) of the Sarva Shiksha Abhiyan and the monthly mandey of Shikshamitron, which has been appointed at Parishadiya Prathamik School, has been increased by nearly three times to 10 thousand rupees.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.